करोड़ की लागत से बना प्रदेश का पहला आदर्श थाना जानिए क्या कुछ खास है इस करोड़ों से बने नए थाने में

राजधानी के टाटीबंध क्षेत्र में आमनाका थाना को प्रदेश के पहला आदर्श थाना बनाया गया है। यह थाना करीब ढाई करोड़ की लागत से बना है।बता दे कि इस आमानाका थाना को आदर्श थाना इसलिए कहा गया है कि यहां कारपोरेट ऑफिस जैसी व्यवस्था है। जहां हर विवेचक के लिए अलग अलग केबिन बने हैं। वहीं विवेचक के जांच दस्तावेज रखने के लिए पर्सनल अलमारी भी रखा गया है। वहीं थाने में सोलर ऊर्जा के जरिए बिजली की व्यवस्था भी की गई है।

इसके अलावा थाना परिसर में 500 लोगों की ठहरने की भी व्यवस्था बनाई गई है, साथ ही बड़ा कॉन्फ्रेंस हॉल है। जिसमें एक बार में 200 लोग बैठ सकते हैं। वही अलग से वीआईपी और संवेदना कक्ष भी बनाया गया है। इसके अलावा महिला स्टाफ के लिए भी अलग से कमरे बनाए गए हैं। गौरतलब हो कि इस तरह की व्यवस्था प्रदेश की किसी थाने में नहीं है इसलिए आमानाका थाने को आदर्श थाना कहा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *