मुंह में गाँधी दिल में गोडसे, अगर गाँधी से लगाव है तो करनी होगी गोडसे की निंदा: भूपेश बघेल

रायपुर । एक ओर जहाँ पूरा देश महात्मा गाँधी की 150वीं पुण्यतिथि मना रहा है तो वहीँ राजधानी रायपुर में भी इसकी धूम देखने को मिली जिसके चलते राजधानी में भी गाँधी जयंती के अवसर पर बच्चा-बच्चा गाँधी थिमं पर एक हजार बच्चों ने बापू की वेशभूषा में जयस्तम्भ चौक से गाँधी मैदान तक पड़ यात्रा निकाली जिसमे प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल,पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम,प्रभारी पी.एल.पुनिया समेत कांग्रेस के कई नेता भी शामिल हुए| इस दौरान यहाँ आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि आज जब गांधी की जय जयकार हो रहा है तो गोडसे मुर्दाबाद के नारे लगने चाहिए। गांधी को अपनाना है तो साफ मन से, खुले दिल से। भूपेश बघेल ने कहा कि जो लोग दिखावे के लिए गांधी का नाम ले रहे हैं, लेकिन गोडसे की भर्त्सना नहीं कर पा रहे हैं, उनका खुलकर विरोध करे। आज जिस राष्ट्वाद की बात की जा रही है, उसमें राष्ट्र कुचला जा रहा है, लोग पिस रहे हैं, यह कैसा राष्ट्रवाद है।रामकृष्ण परमहंस ने गरीब, पिछड़ों और उपेक्षितों में भगवान के दर्शन करने की बात कही और इसे गांधीजी ने अंगीकार किया। गांधीजी को बदनाम करने, इतिहास बदलने की कोशिश की जा रही है, लेकिन आज 150 साल बाद भी गांधी प्रासंगिक हैं और रहेंगे।भूपेश बघेल ने कहा कि इस देश में दो विचारधाराएं थी, एक का प्रतिनिधित्व गांधीजी करते थे और दूसरे का प्रतिनिधित्व गोड़से ने की| उन्होंने कहा महात्मा गांधी ने सत्य, अहिंसा सहित जो संदेश और आदर्शों दिया है, उस पर चलकर हमें छत्तीसगढ़ और देश का निर्माण करना है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *