International news

हाथ बंधे लोगों को गोली मारने का आरोप

News Ads

एक मैसेजिंग ऐप पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में ऐसा लग रहा है कि सैन्य वर्दी पहने इसमें दो आर्मीनियाई हैं. इस वीडियो को अज़रबैजान के सैनिकों ने बनाया है.दूसरे वीडियो में दिख रहा है कि इन्हीं दोनों आर्मीनियाई लोगों के हाथ पीछे बंधे हुए हैं और इन्हें गोली मार दी गई.आर्मीनियाई अधिकारियों ने इन लोगों को 73 साल के बेनिक हाकोब्यान और 25 साल के यूरी आदमयान के तौर पर पहचाना है.

अजरबैजान ने इन वीडियोज को फर्जी बताया है.मानव अधिकारों पर नजर रखने वाली यूरोप की बड़ी संस्था काउंसिल ऑफ यूरोप ने कहा है कि उन्हें ये वीडियो मिले हैं और वे इन सभी कथित मानव अधिकारों के उल्लंघन के मामलों की जांच कर रहे हैं.

कॉकेशस एनक्लेव के पास 27 सितंबर को लड़ाई छिड़ गई थी. इस इलाके को अंतरराष्ट्रीय तौर पर अजरबैजान के हिस्से के तौर पर मान्यता मिली हुई है, लेकिन यह इलाका आर्मीनियाई नियंत्रण में है.

ये टकराव तुरंत ही एक बड़े पैमाने पर शुरू हुई जंग में तब्दील हो गए. इसमें कस्बों और शहरों पर भारी बमबारी हुई और यहां तक कि इसमें प्रतिबंधित क्लस्टर बमों के इस्तेमाल के भी आरोप लग रहे हैं.

10 अक्तूबर को और उसके बाद 18 तारीख को युद्ध विराम का ऐलान हुआ, लेकिन जंग रुकी नहीं. इस जंग में अब तक कई हजार लोगों की मौत होने की बात सामने आ रही है. आर्मीनिया और अजरबैजान दोनों ही देशों में आम नागरिक गोलाबारी से मारे गए हैं. दसियों हजार लोगों को अपने घर छोड़कर भागना पड़ा है

More Article from World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Around The World
Back to top button
Contact Us