Chhattisgarh
Trending

नही रहे देवव्रत सिंह,राज परिवार में पसरा मातम

खैरागढ़। इस बार राज परिवार की दिवाली काली हो गई जब सूचना मिली की राजा देवव्रत से नहीं रहे। छत्तीसगढ़ की सियासत में कम उम्र में ही पहचान बनाने वाले नेता देवव्रत सिंह ने हमेशा के लिए दुनिया को अलविदा कह दिया है। जिसने भी उनके मौत की खबर सुननी सभी सकते में आ गये वहीं पूरे खैरागढ़ में मातम पसर चुका है।

जानकारी के मुताबिक बुधवार और गुरुवार की दरम्यानी रात करीब 3 बजे देवव्रत सिंह काे दिल का दौरा पड़ा, जिसके चलते उनकी मृत्यु हो गई। बताया जा रहा है कि हार्ट अटैक की शिकायत के बाद उन्हें सिविल अस्पताल ले जाया जा रहा था, लेकिन रास्ते में ही उनकी सांसें थम गईं. राजनांदगांव के सीएमएचओ मिथलेश चौधरी ने विधायक देवव्रत सिंह के निधन की पुष्टि की।

देवव्रत सिंह खैरागढ़ राज परिवार के सदस्य थे। उनके समर्थकों में निधन की खबर के बाद शोक की लहर है। उनके निज निवास पर समर्थकों की भीड़ जुटनी शुरू हो गई है। समर्थकों का कहना है कि इस बार राज परिवार की दिवाली काली हो गई है।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ की सियासत में कम उम्र में ही पहचान बनाने वाले नेता देवव्रत सिंह खैरागढ़ विधानसभा सीट से चार बार विधायक निर्वाचित हुए वहीं एक बार राजनांदगांव लोकसभा सीट से सांसद भी निर्वाचित हुए। देवव्रत सिंह FCI के अध्यक्ष रहे।

साथ ही कई संसदीय समितियों के सदस्य भी रहे। पिछले विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने कांग्रेस छोड़कर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (JCC) का हाथ थामे। वर्तमान में वे जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ से खैरागढ़ सीट के विधायक थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button