ChattisgarhKawardha

बाल संरक्षण समिति जिला प्रशासन की टीम ने रूकवाया नाबालिक का विवाह

News Ads

ग्राम पंचायत बाल संरक्षण समिति के माध्यम से महिला एवं बाल विकास विभाग को यह सूचना मिली की ग्राम कोदवा विकासखण्ड कवर्धा जिला कबीरधाम मे नाबालिक बालक का विवाह सम्पन्न कराया जा रहा है। मौके पर जिला बाल संरक्षण अधिकारी के निर्देशन में जिला बाल संरक्षण इकाई महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी कर्मचारियों ने पुलिस विभाग ग्राम पंचायत स्तरीय बाल संरक्षण समिति के अध्यक्ष एवं सदस्य सरपंच सचिव आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मितानीन कोटवार की टीम के साथ संयुक्त रूप से शादी घर पहुॅच कर नाबालिक बालक के जन्मतिथि का टीम द्वारा शूक्ष्म जांच किया, जिसमे बालक का उम्र 14 वर्ष 1 माह पाया गया जो बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006 के अनुसार विवाह योग्य नही है।

बाल विवाह रोकथम दल द्वारा नाबालिक बालक उनके परिवार एवं स्थल पर उपस्थित लोगों को बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006 की विस्तृत जानकारी दिये जिसमें 21 वर्ष कम उम्र के लड़के और 18 वर्ष से कम उम्र की लड़की के विवाह को प्रतिबंधित किया गया है तथा कोई व्यक्ति जो बाल विवाह करवाता है,करता है अथवा उसमें सहायता करता है, को 2 वर्ष का कठोर कारावास अथवा जुर्माना हो 1 लाख रूपये तक हो सकता है अथवा दोना से दण्डित किया जा सकता है की जानकारी दिया गया काफी समझाइस देने के बाद नाबालिक बालक एवं परिवार जनो ने शादी रोकने सहमति दी जिस पर बाल विवाह रोकथम दल ने विवाह स्थल पर पंचनामा एवं घोषणा पत्र तैयार कर बाल विवाह रूकवाया।

संवाददाता

More Article from World

प्रवीण टाइगर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Around The World
Back to top button
Contact Us