Crime NewsUttar Pradesh

ऑपरेशन से पहले हुए महिला की मौत से आक्रोशित परिजनों ने अस्पताल में की तोड़फोड़,डर से बंधक बने डॉक्टर

News Ads

संभल पित्त की थैली का ऑपरेशन कराने आई महिला की अस्पताल में मौत परिजनों ने लगाया डॉक्टरों पर आरोप कहा गलत तरीके से इलाज किया तो हुई महिला की मौत चार दिनों से जाँच के नाम पर पैसे ऐंठ रहे थे।महिला की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल में की तोड़फोड़ की मौके पर पहुँची पुलिस परिजनों को समझाया। नशे का इंजेक्शन लगाने के कारण हुई महिला की मौत हॉस्पिटल मालिक डॉक्टर ने कैमरे पर कहा में डिग्री होल्डर नहीं हूँ मगर चला सकता हूँ हॉस्पिटल ,हॉस्पिटल में ही होती है सारी जांचे हॉस्पिटल में ही खुला है मेडिकल और पैथलॉजी लेव स्वास्थ्य विभाग की मिली भगत से हॉस्पिटल मालिक डॉक्टर है रसूखदार

दरसल मामला जनपद संभल के थाना इलाका चन्दौसी सीता रोड स्थित माँ हॉस्पिटल का है। जहाँ आज एक महिला को अपनी जान से हाथ उस वक्त धोना पड़ा जब पित्त के थैली में स्टोन होने पर महिला अपना ऑपरेशन माँ नाम के हॉस्पिटल में कराने आई और 8 फरवरी को वह माँ हॉस्पिटल में भर्ती हुई।फिर डॉक्टरो ने चार दिनों तक महिला की सारी जांचे कराई और आज उसको ऑपरेशन करने के ऑपरेशन रूम में ले गए तो डॉक्टर ने उस महिला को बेहोशी का इंजेक्शन दिया,महिला ने ऑपरेशन होने से पहले ही दम तोड़ दिया । जैसे ही महिला के परिजनों को इस बात का पता लगा तो परिजनों ने हॉस्पिटल में तोड़फोड़ करनी चालू कर दी।

और हॉस्पिटल के डॉक्टरों को ऑपरेशन रूम में छिपना पड़ा घंटो पुलिस के समझाने पर मृतक के परिजन शांत हुए फिर डॉक्टरों को पुलिस ने ऑपरेशन रूम से बहार निकाला डॉक्टर एमएल पाल का कहना है, की महिला का ब्लडप्रेशर 150 /90 हो गया था।इसलिए उसको हार्ड अटेक आ गया सवाल पूछने पर डॉक्टर एमएल पाल ने कहा में कोई डॉक्टर डिग्री होल्डर नहीं हूँ, मगर हॉस्पिटल चला सकता हूँ सवाल ये उठता है कि जनता की जान से खुले आम खिलवाड़ हो रहा है और स्वास्थ्य महकमा कुम्भकर्णी नींद सोया है और स्वास्थ्य विभाग की मिली भगत से जनता की प्राइवेट हॉस्पिटलों में हत्या हो रही है जबकि निजी हॉस्पिटल में ही पैथलॉजी लेव और मैडिकल खुले है जिसका हॉस्पिटल के पास कोई परमीशन नहीं है ।

संवाददाता

More Article from World

मुबारक अली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Around The World
Back to top button
Contact Us