BalodChattisgarhCrime NewsNational

हो जाइए सावधान वैलेंटाइन पर टाटा ग्रुप के नाम पर हो रही है साइबर ठगी

News Ads

वैलेंटाइन वीक शुरू हो चुकी है।यह वीक प्रेमी जोड़ों के लिए सबसे ज्यादा जानी जाती है।इस वीक के शुरू होते ही अपराध भी बढ़ने लगते है।बता दें इस बार लोगों को ठगने का नया पैतरा अपनाया गया है।साइबर ठगों ने टाटा ग्रुप के नाम पर ठगी करना शुरू कर दिया है।वैलेंटाइन वीक 7 फरवरी से शुरू हो रहा है लेकिन इसके पहले ही फ्री में वैलेंटाइन गिफ्ट बांटने का लालच दिया जा रहा है।टाटा कंपनी के नाम पर साइबर ठग लिंक भेज रहे है।रांची पुलिस द्वारा इस संबंध में एड वाईजरी जारी किया है।साइबर ठगों ने अपराध का एक नया तरीका इजाद कर, लोगों को ठगने का काम शुरू कर दिया है. साइबर ठगों ने देश की कंपनी टाटा ग्रुप के नाम पर ठगी करना शुरू कर दिया है। वेलेन्टाइन डेय के पहले ही फ्री में वैलेंटाइन गिफ्ट बांटने का लालच दिया जा रहा है। और जो भी गिफ्ट के लालच में आ रहे हैं। और फ्रॉड का शिकार हो रहे है। टाटा ग्रुप ने ट्वीट कर कहा है,उनकी कंपनी की तरफ से ऐसे मैसेज या लिंक नहीं भेजे गए हैं।कंपनी ने लोगों को साइबर फ्रॉड से सावधान किया है।

झांसे में न आए;-


मार्केट में इन दिनों लोगों को वॉट्सऐप ग्रुप पर टाटा ग्रुप के लोगो का इस्तेमाल कर वैलेंटाइन डे गिफ्ट का ऑफर दिया जा रहा है।यह मैसेज तेजी से वायरल भी हो रहा है। वायरल मैसेज में कहा जा रहा है कि कुछ आसान प्रश्नों का उत्तर दीजिए और आकर्षक गिफ्ट पाइए, यह भी कहा जा रहा है कि इसमें भाग लेने वाले मोबाइल फोन तक जीत सकते हैं, लोग टाटा ग्रुप का मैसेज मानकर लिंक पर क्लिक कर दे रहे हैं। लोग जैसे ही अपनी जानकारी लिंक पर शेयर करते हैं। पूरी जानकारी ठगने वाले गिरोह के पास चली जाती है और मिनटों में ही उनका बैंक अकाउंट खाली हो जा रहा है।

सत्यता परखे;-
ऑनलाइन गिफ्ट लेने से पहले पूरी तरह से जांच परख लें।सर्च इंजन कस्टमाइजेशन में ऐसे लिंक पहले पायदान पर रहते हैं. इसलिए इन पर अपनी जानकारी साझा करने से पहले पूरी तरह से जांच कर लें।और मुफ्त में गिफ्ट देने वाले ऑनलाइन शॉपिंग के झांसे में कभी ना फंसें। इस तरह के वायरल मैसेज को बिना पढ़े ही डिलीट कर दें। ऐसे मैसेज या सोशल साइट में कोई लिंक अगर मिल रहा है तो उसे कभी क्लिक ना करें।

More Article from World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Around The World
Back to top button
Contact Us