ChattisgarhRajnandgaon

दिल्ली बॉर्डर पर किसान नहीं बल्कि नक्सली और खालिस्तानी हैं-भाजपा सांसद संतोष पांडेय

News Ads

किसानों का आंदोलन मानो राजनेताओं के लिए सियासी मसला बन चुका है, जिसकी जो मर्जी वो कह दे भले ही उनके कहि गयी बातों का कैसा भी परिणाम रहे।किसान आंदोलन पर भाजपा सांसद संतोष पांडेय ने विवादस्पद टिप्पणियां की है।जिसके चलते आम आदमी पार्टी राजनांदगांव जिला अध्यक्ष खेमराज वर्मा के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओं ने भाजपा सांसद संतोष पाण्डेय के घर का घेराव कर पुतला दहन किया ।

दरसअल कल भाजपा सांसद ने खैरागढ़ की एक बैठक में कहा की दिल्ली बॉर्डर पर किसान नहीं बल्कि नक्सली और खालिस्तानी हैं ।राजनांदगांव से भाजपा सांसद सन्तोष पांडे ने देश के अन्नदाता किसानों का अपमान किया हैं।आम आदमी पार्टी किसानों का अपमान बर्दाश्त नहीं करेगी।
सन्तोष पांडे ने किस आधार पर किसानों को नक्सली और खालिस्तानी कहा है, साबित करें।पार्टी अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने सख्त लहजे में कहा की भाजपा अपनी ओछी हरकतों से बाज नहीं आ रही है।

अन्नदाताओं से मांगे माफी
अन्नदाताओं के लिए भाजपा सांसद द्वारा की गई टिप्पणी परअध्यक्ष कोमल हुपेंडी का कहना है,कि सांसद को अन्नदाताओं से माफी मांगनी चाहिये।उन्होंने कहा कि राजनांदगांव में इमाम चौक पर 17जनवरी 21 को दोपहर 1बजे आकर हमें सबूत दे यह मेरा खुला चैलेंज है कि सांसद महोदय आये और सबूत के साथ साबित करे या सार्वजनिक तौर पर अन्नदाताओं से तुरंत माफी मांगे। मैं 17 जनवरी 2021 को समय अपराह्न 1.00बजे से 4.00बजे तक इंतजार करूँगा।

दुर्भाग्यपूर्ण बयान
जिला अध्यक्ष राजनांदगांव खेमराज वर्मा ने कहा कि ये बहुत ही दुर्भाग्य पूर्ण बयान है जो हमारे राजनांदगांव के चुने हुए जनप्रतिनिधि द्वारा दिया गया है। इससे पहले भी सांसद द्वारा इस तरह की विवादित बयान देते रहे है। यदि सांसद महोदय ने इस बयान पर हमारे अन्नदाता से सार्वजनिक माफी नहीं मांगी तो हम अपनी आवाज और बुलंद कर जनता के बीच जायेगे।

More Article from World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Around The World
Back to top button
Contact Us