Crime NewsRaipur

गोलबाजार में हुये महिला के गहने और पैसों की लूट का हुआ खुलासा पुलिस ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

News Ads

25 जनवरी को एक महिला रिपोर्ट दर्ज कराने आई थी,कि गोलबाजार में उनके गहनों और नगदी पैसों को बहला फुसलाकर लूट लिया गया।जिसके मामले में पुलिस छानबीन कर रही थी।इस जांच में पुलिस को सफलता मिल गयी।उन्होंने इस वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

दरसल महिला प्रेमलता अग्रवाल पति आनंद अग्रवाल ने थाना गोलाबाजार में आकर रिपोर्ट दर्ज कराया है कि
25 जनवरी को वह अपने पति के साथ सब्जी मार्केट शास्त्री बाजार 11.00 बजे गई थी। जहाँ पति ने उसेे मार्केट मे छोड कर चले गये। कुछ देर बाद फुल दुकान के पास आय और आकर बोला वह कई दिनो से भूखा है और उसका मालिक काम से निकाल दिया। उसी समय एक दूसरा लडका आया जो सफेद रंग का शर्ट पहना था ।वह आया और पास खडे लडका को बोला तुम्हारे थैले मे क्या है। तब वह लडका बोला मै नही जानता और दुकान से चोरी कर उठा लाया हूं। तब उसने फुल वाले के पास 500 के नोट को गड्डी से निकालने जैसे करते हुये 500 रू का नोट निकाला और उसका चिल्हर करा लिया । फुल वाले ने 500 रू का चिल्हर दिया और उसने अपने पास रखा तब सफेद शर्ट वाला लडका बोला यह भूखा है कहीं पर फस जायेगा उसे खाना खिला दो और उसी ने लडके को 50/- दिया और महिला से पूछा कहां पर खाने की दुकान है, तो महिला ने उसे नैवेध्य मिष्ठान दुकान को दिखाई जब महिला बाहर साथ मे आने लगी तब उसने बांया हाथ को पकडा जिससे कुछ सुझ-बुझ नही आई।इस दौरान उन दोनो लडके के साथ पिछे पिछे मोतीबाग चैक के पास गुप्ता काम्प्लेक्स से डी के एस जाने वाली रोड के पास तक गई वहां पर महिला के पहने हुये जेवरात सोने की चेन, दो अगुंठी, और दोनों हाथ की चुडी जिसमे हिरा जडा हुआ था, लगभग वजनी 6.5 तोला किमती 5 लाख रू एवं उसके पास रखे नगदी रकम 500-500 के चार नोट, 20 रू की एक गड्डी कुल 2000/- एवं 100-100 के 10 नोट कुल 1000 रू जुमला किमती 5,05000/- रू को धोखाधडी कर ले गये। इस मामले पर थाना गोलबाजार में अपराध क्र. 08/2021 धारा 420, 34 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

इस मामले में महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय अजय यादव द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटले, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण, तारकेश्वर पटेल एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध/सायबर सेल अभिषेक माहेश्वरी को अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तारी हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।

जिस पर सायबर सेल एवं थाना गोलाबाजार की टीम द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण कर प्रार्थी से घटना के संबंध में विस्तृत जानकारी लेकर आसपास के लोगो से पूछताछ किया गया।इसी दौरान टीम को महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई जिसके आधार पर टीम को दिल्ली रवाना किया गया। टीम द्वारा दिल्ली में कैम्प करते हुए अज्ञात आरोपियों को चिन्हांकित करने के प्रयास किए जा रहे थे, जिस पर लोकेशन के आधार पर आरोपियों का सोम बाजार, राडार पार्क, थाना निहाल विहार, बाहरी जिला दिल्ली के पास होना पाया गया। जिसे टीम के द्वारा घेराबंदी कर दोनो आरोपियों को हिरासत में लिया गया। पूछताछ करने पर गोपाल सोलंकी उर्फ कुणाल बार – बार अपना बयान बदल रहा था एवं किसी भी प्रकार की घटना में अपनी संलिप्तता नहीं होना बताकर लगातार टीम को गुमराह करने का प्रयास कर रहा था। जिस पर टीम द्वारा कड़ाई से पूछताछ करने पर वह अधिक समय तक अपने झूठ पर टिक न सका और अपने साथी राहुल परमार के साथ उक्त घटना को कारित करना स्वीकार किया गया।

More Article from World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Around The World
Back to top button
Contact Us