National

राष्ट्रपिता की पुण्यतिथि पर जाने उनके के सकारात्मक विचार

News Ads

आज देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि है।आज देश मे विचार खण्ड खण्ड हो गया है।30 जनवरी 1948 को नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की हत्या की थी, यही वजह है। कि इस दिन को संपूर्ण राष्ट्र ‘शहीद दिवस’ के रूप में मनाता है। गांधीजी का व्यक्तित्व ही ऐसा है कि उनसे जितना सीखा जाए उतना कम है। गांधीजी ने अपने आदर्शों के आधार पर ऐसे बड़े-बड़े काम किए हैं।जो कि मिसाल बन गए। गांधीजी ने अपने जीवनकाल में कई सारी बातें ऐसी कहीं हैं, जो कि जानने और अपने जीवन में उतारने योग्य है। अगली स्लाइड्स से जानिए गांधीजी के अनमोल विचार।

व्यक्ति अपने विचारों के सिवाय कुछ नहीं है. वह जो सोचता है, वह बन जाता है।

कमजोर कभी क्षमाशील नहीं हो सकता है।क्षमाशीलता ताकतवर की निशानी है।

ताकत शारीरिक शक्ति से नहीं आती है।यह अदम्य इच्छाशक्ति से आती है।

More Article from World

धैर्य का छोटा हिस्सा भी एक टन उपदेश से बेहतर है।

गौरव लक्ष्य पाने के लिए कोशिश करने में हैं।न कि लक्ष्य तक पहुंचने में।

आप जो करते हैं वह नगण्य होगा।लेकिन आपके लिए वह करना बहुत अहम है।


जो करते हैं और हम जो कर सकते हैं, इसके बीच का अंतर दुनिया की ज्यादातर समस्याओं के समाधान के लिए पर्याप्त होगा।

किसी देश की महानता और उसकी नैतिक उन्नति का अंदाजा हम वहां जानवरों के साथ होने वाले व्यवहार से लगा सकते हैं.

कोई कायर प्यार नहीं कर सकता है।यह तो बहादुर की निशानी है।कि स्वास्थ्य ही असली संपत्ति है।न कि सोना और चांदी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Around The World
Back to top button
Contact Us