International newsNational

अफगानिस्तान में अचानक ब्लास्ट, राष्ट्रपति निवास में चल रही थी ईद की नमाज

अफगानिस्‍तान में चल रहे ‘गृहयुद्ध’ की आंच अब राजधानी काबुल में राष्‍ट्रपति के निवास तक पहुंच गई है। राष्‍ट्रपति भवन में मंगलवार को ईद की नमाज के दौरान अचानक ही रॉकेट की बारिश होने लगी। नमाज के दौरान घटनास्थल पर रॉकेट बरसने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है, जिसमें देखा जा सकता है कि सैकड़ों लोग राष्ट्रपति भवन में नमाज अता कर रहे हैं और अचानक एक के बाद एक कई रॉकेट विस्फोट हुए। हालांकि इस हमले में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। सूत्रों के मुताबिक यह हमला तालिबान की ओर से किया गया है जो अब काबुल के काफी नजदीक तक पहुंच गए हैं।

नमाज शुरू होते ही रॉकेट हमला

स्थानीय टीवी न्यूज चैनल टोलो न्‍यूज ने बताया है कि यह रॉकेट हमला नमाज शुरू होने के ठीक बाद हुआ। ये रॉकेट काबुल के परवान-ए-से जिले से फायर किए गए थे जो उत्‍तर की ओर स्थित है। ये रॉकेट काबुल के बाग-ए-अली मरदान और चमन-ए-होजोरी इलाके में गिरे। जिस समय यह रॉकेट हमला हुआ था, उस समय अफगान राष्‍ट्रपति अशरफ घनी का महल में ही मौजदू थी। वहीं अफगान राष्‍ट्रपति ने कहा है कि अफगान लोगों को यह साबित करना होगा कि वे एकजुट हैं।

शांति नहीं चाहते तालिबान

अफगान राष्ट्रपति अशरफ घनी ने कहा कि तालिबान ने इन हमलों के जरिए दिखा दिया है कि वह शांति नहीं चाहता है। उन्‍होंने कहा कि अब हम इसके आधार पर फैसले करेंगे। लोगों के दृढ़ इच्‍छाशक्ति से अगले तीन से छह महीने में स्थितियां सुधरेंगी। उन्‍होंने तालिबान से सवाल किया कि क्‍या उनके पास अफगान लोगों खासकर महिलाओं के प्रति सकारात्‍मक प्रतिक्रिया है। रॉकेट फायर होने के बाद सुरक्षा बलों ने परवान-ए-से के पूरे इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू किया है। यहां हर रास्ते पर कड़े सुरक्षा प्रबंध कर दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Contact Us