ChattisgarhKorba

दतैल हाथी का आतंक : हाथी के चिंघाड़ से ग्राम कोरबी चोटिया थर्राया,हाथी के हमले से बाल-बाल बचा ग्रामीण

कोरबा:- कटघोरा वन मंडल के केंदई रेंज में आने वाले कोरबी सर्किल में हाथियों का आतंक फिर से शुरू हो गया है। अब हाथी दिन दहाड़े खाने की तलाश में घनी आबादी वालों क्षेत्रों में बेखौफ होकर गरीबों के आशियाने को निशाना बना रहे हैं। इससे ग्रामीण दहशत में है।हाथी के आतंक से पूरा क्षेत्र थर्राया उठा है आपको बता दें कि स्थानीय कोरबी रेशम केंद्र के प्लांटेशन एवं वन विभाग के क्षेत्र में स्थित आवास के पीछे सुबह करीब 6:00 से 7:00 के लगभग गांव के सोनू प्रजापति नामक का एक ग्रामीण अपने मोटरसाइकिल क्रमांक सी जी 12बी सी 9025 में सवार होकर तालाब की ओर जा रहा था तभी उसका सामना दतैल हाथी से हो गया। हाथी देखकर उसके हाथ पैर कापने।लगा और किसी तरह मोटरसाइकिल को खड़ा कर भागने लगा। तभी बौखलाए दतैल हाथी ने दौड़ कर मोटरसाइकिल को अपने सूंड से उठाकर पटक दिया जिससे मोटरसाइकिल के परखच्चे उड़ गए। और देखते ही देखते एक बड़ी घटना टल गई, घटना की आवाज सुन कर आसपास के ग्रामीण जुट गए। और हिंसक हो गये दतैल हाथी को काफी मुश्किल के बाद जंगल की ओर खदेड़ने में ग्रामीण सफल हो पाये
इसी तरह बीते रात्रि लगभग 3:00 बजे के आसपास पसान रेंज के जलके तनेरा सर्किल में तनेरा निवासी बुधनी बाई पति महीप सिंह जाति गोंड मोहल्ला दक्षिण पारा में घुस कर मकान को पूरी तरह उजाड़ दिया। वही ग्राम बोदरा डांड निवासी दुर्गाबाई पति कृपा सिंह 28 वर्ष जाति गौड़ के कच्चे मकान को तोड़कर घर में रखे चावल दाल महुआ एवं अन्य कीमती सामान को बुरी तरह बिखरा कर नुकसान पहुंचाया है। आपको बता दें कि पिछले कई वर्षों से पोड़ी उपरोड़ा ब्लॉक के आधे से ज्यादा ग्राम पंचायतों में 45 हाथियों का दल घुम रहा है। जिसमें अब तक कई ग्रामीणों की जनहानि हो चुकी है। वही सैकड़ों मकान हाथियों के द्वारा तोड़े जा चुके हैं जिसकी वन विभाग मौके पर जाकर नुकसानी का प्रकरण तैयार कर क्षतिपूर्ति राशि देने

की कार्रवाई भी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Contact Us