Balod

बिना जांच रिपोर्ट आए फिर से शुरू किया गया डैम का निर्माण आखिर क्यों कांग्रेस कार्यकर्ता ही हुए कांग्रेस के खिलाफ? जाने…

बालोद संवाददाता बलराम गुप्ता। बालोद जिले के आदीवासी विकासखंड डौन्डी के पुसावड़ नाला पर ग्राम लख्माटोला सेेे कांडे मार्ग पर सिंचाई विभाग के द्धारा मनरेगा मद के अंतर्गत 49.46 लाख रुपये लागत से स्टापडेम का निर्माण कराया गया था जो निर्माण के पहले ही वर्ष हुई बारिश मे बह गया था निर्माण 2 वर्षो से चल रहा है जिसमे यह स्टॉपडेम निर्माण लापरवाही की भेंट चढ़ गया सिंचाई विभाग के अधिकारियों के भ्रष्टाचार के चलते जो स्टापडैम पहली बारिश में बह गया था। उसी टूटे पुल को बनाने में फिर से लापरवाही किया जा रहा है सूत्रों की माने तो जो निर्माण फिर से कराया जा रहा है उसमें भी विभाग लापरवाही बरत रहा है काम मे लगे मजदूर भी इस निर्माण में नियम के विपरीत समाग्री उपयोग करने की बात स्वीकार रहे है और घटिया व पुराने गिट्टी जो उपयोग किये गए है उसी को फिर से उपयोग किया जा रहा है सिचाई विभाग के अधिकारी इतने बेफिक्र है कि बिना जांच रिपोर्ट आये व बिना कार्यवाही के इस विवादित स्टापडेम का निर्माण फिर से चालू कर दिया गया गया है गौर करने की बात यह है कि जिस ग्राम में सिंचाई विभाग के अधिकारी निर्माण में लापरवाही कर रहे है वह क्षेत्र प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री श्रीमती अनिला भेडिया का विधानसभा क्षेत्र है बावजूद इसके भी। बेफिक्र होकर सिंचाई विभाग इस तरह की लापरवाही करते नजर आ रहे है वहीं इस मामले पर प्रदेश सचिव कांग्रेस प्रकोष्ठ छत्तीसगढ़ रेवा रावटे ने भी आरोप लगाते हुए कहा है कि सिंचाई विभाग के अधिकारी मनमाने तरीके से आदिवासी क्षेत्रों में निर्माण कार्य करा रहे है घटिया निर्माण के कारण यह स्टापडेम पहले बह गया था जिस पर कोई कार्यवाही अधिकारियों पर अबतक नही किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Contact Us