Crime NewsInternational newsMadhya Pradesh

बलात्कारो से दहल रहा देश मगर देश को चलाने वालों तक नही पहुँच रहा पीड़ा संदेश

News Ads

देश के कोने-कोने में रोज दरिंदे न जाने कितनी निर्भया की अस्मिताओं से खेलेंगे।अब तो बलात्कार आम समस्या बन कर रह गई है।देश में और देश को चलाने वाले विदेशों के दौरे करने में व्यस्त हैं।दिल दहल जाता है, और रूह कांप उठती है।देश में स्त्री की ऐसी स्थिति देख कर।बलात्कार पर बलात्कार हो रहा है।और सरकार मौन है।न जाने देश मे निर्भया कांड कितने बार दोहराया जाएगा।

मध्यप्रदेश में फिर वही घटना दोहराया गया।
जिसे सुनकर लोगों की रूहं कांप उठी। बता दें मामला मध्यप्रदेश के सी​धी का है। ​जहां दरिंदों ने विधवा महिला से सामूहिक बलात्कार किया।उसके बाद पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में लोहे का सरिया घुसा दिया। घटना सीधी जिला के करीब 40 किलोमीटर दूर अमलिया थाना क्षेत्र का है।इस भयानक वारदात के बाद महिला जिंदगी और मौत के बीच लड़ाई लड़ रही है।

 महिला के पति के मौत के बाद महिला अपने बच्चों के साथ झोपड़ी में रहेती है।शनिवार की देर रात महिला को तीन युवकों ने आवाज दी। महिला झोपड़ी से बाहर नहीं निकली तों तीनों युवकों ने डंडे से लगे दरवाजा को तोड़कर झोपड़ी के अंदर घुस गए। जहां पीड़िता से तीनों आरोपी युवकों ने बारी बारी से बलात्कार किया। इतना ही नहीं दुष्कर्म के बाद दरिंदों ने पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में लोहे का सरिया डाल दिया।इस भयानक मंज़र के बाद महिला रक्तरंजित पड़ी हुई थी।

रविवार को उसकी बहन उसे ऑटोरिक्शा में अमलिया पुलिस स्टेशन ले जाया गया। जहां से जिला अस्पताल ले जाने तक महिला का काफी खुन बह चुका था। उसकी हालत नाजुक होने के कारण डॉक्टरों ने तुरंत रीवा के संजय गांधी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। अस्पताल के गायनो विभाग की एचओडी डॉ कल्पना यादव ने बताया, ”महिला को गंभीर हालत में सीधी से यहां लाया गया था। उसकी हालत ख़राब थी। गुप्तांगो में रॉड की वजह से अंदरूनी चोट थी जिसकी सर्जरी की गयी है।अभी वह खतरे से बाहर है और इलाज जारी है।वही पुलिस ने इस मामले मेें 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी पीड़िता के ही गांव के रहने वाले है। पुलिस ने धारा 376, 324, 542, 34 के तहत मामला दर्ज किया है। इस घटना को जिन आरोपियों ने अंजाम दिया है उनकी पहचान लल्लू कोल, भाईलाल पटेल और 2 अन्य लोगों के रूप में हुई है। मामले की जांच सर्वोच्च प्राथमिकता पर की जा रही है।
 

More Article from World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Around The World
Back to top button
Contact Us