Bhilai-durgChhattisgarhUncategorized
Trending

नगरीय निकायों के निर्वाचन की घोषणा, कलेक्टर ने तैयारियों का किया निरीक्षण


स्ट्रांग रूम और मतगणना कक्ष भी चिन्हांकित किये गये

दुर्ग कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे एवं एसएसपी श्री बद्रीनारायण मीणा ने आज नगरीय निकायों में निर्वाचन की तैयारियों का निरीक्षण किया।

वे भिलाई, भिलाई-चरौदा, रिसाली तथा जामुल नगरीय निकाय पहुंचे।

यहां उन्होंने नामांकन की, स्ट्रांग रूम की और मतगणना कक्ष की आवश्यक तैयारियां देखी। कलेक्टर ने रिटर्निंग अधिकारियों के कक्ष भी देखे तथा इस संबंध में निर्देश दिये।

नामांकन की प्रक्रिया के लिए जरूरी तैयारियां भी कलेक्टर ने देखी। उन्होंने स्क्रूटनी आदि कार्यों के बारे में भी विस्तार से जानकारी ली।

इसके साथ ही उन्होंने नगरीय निकायों में स्ट्रांग रूम और मतगणना कक्ष भी देखे। यहां अधिकारी द्वय ने सुरक्षा से संबंधित तैयारियों के बारे में भी जायजा लिया।

कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि मतगणना कक्ष व्यवस्थित होना चाहिए तथा यहां स्पेस भी काफी होना चाहिए।

कलेक्टर ने अधिकारियों से आदर्श आचरण संहिता का पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये तथा राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशों के मुताबिक कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सभी तैयारियां समय सीमा पर तय कर ली जाए। कलेक्टर ने

रिसाली में शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल,

भिलाई में कल्याण कालेज,

भिलाई तीन में स्व. खूबचंद बघेल महाविद्यालय एवं

जामुल में हायर सेकेंडरी स्कूल का निरीक्षण किया।

इस दौरान एडीएम श्रीमती नूपुर राशि पन्ना, अपर कलेक्टर श्रीमती पद्मिनी भोई, भिलाई निगम आयुक्त श्री प्रकाश सर्वे, एडीनशन एसपी श्री संजय ध्रुव, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री खेमलाल वर्मा, भिलाई चरौदा निगम आयुक्त श्री कीर्तिमान राठौर, रिसाली निगम आयुक्त श्री आशीष देवांगन एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

कोविड प्रोटोकाल का रखा जाएगा ध्यान- इस संबंध में कलेक्टर ने प्रेसवार्ता भी ली प्रेसवार्ता में उन्होंने निर्वाचन प्रक्रिया के संबध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि

रिसाली हेतु रिटर्निंग ऑफिसर श्रीमती नूपुर राशि पन्ना,

भिलाई हेतु श्रीमती पद्मिनी भोई,

भिलाई-चरोदा हेतु श्री विपुल गुप्ता एवं

जामुल हेतु श्री जागेश्वर कौशल रिटर्निंग आफिसर होंगे।

उन्होंने कहा कि कोविड प्रोटोकाल का ध्यान रखा जाएगा। सेनिटाईजर की व्यवस्था होगी।

कोविड से पीड़ित मरीज भी मतदान दे सकेंगे इसके लिए आखिरी घंटे में विशेष व्यवस्था होगी।

इस दौरान एसएसपी श्री बद्रीनारायण मीणा भी मौजूद थे।

उन्होंने कहा कि 426 संवेदनशील केन्द्र है और 10 अतिसंवेदनशील केन्द्र है। इनमें सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जा रहा है।

इस दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी श्री खेमलाल वर्मा भी उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button