Uncategorized
Trending

देवव्रत सिंह के आकस्मिक निधन पर विकास उपाध्याय ने जताया शोक, कहा राजनीति के लिए अपूर्ण क्षति

रायपुर। जेसीसी जे के खैरागढ़ विधायक देवव्रत सिंह का हृदय गति रुकने से 51 वर्ष की आयु में आकस्मिक निधन हो गया। जिसके बाद पूरे प्रदेश समेत राजनीतिक गलियारे में शोक की लहर है। वही उन के निधन पर विधायक विकास उपाध्याय ने भी गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि देवव्रत सिंह बहुत अल्प समय में हम सबको छोड़कर चले गये। नवगठित छत्तीसगढ़ राज्य के हुए युवक कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष थे और जिस तरह से युवाओं के बीच वे लोकप्रिय थे।

निश्चित तौर पर पूरे छत्तीसगढ़ के युवाओं का उनके प्रति एक विशेष जुड़ाव था। राजनीति के बहुत कम समय में उन्होंने चार बार विधायक और एक बार सांसद चुनकर साबित कर दिया था कि वे एक जननेता हैं। अचानक से हार्ट अटैक आने के बाद उनके निधन की खबर ने मुझे व्यक्तिगत रूप से व्यथित कर दिया है। जिस तरह से वे विधानसभा में तार्किक सवालों के साथ अपना पक्ष मजबूती पूर्वक रखते थे,उससे साफ जाहिर होता था कि वे राजनीति में कितने परिपक्व हैं।

उनके अचानक ही यूँ छोड़कर चले जाने से छत्तीसगढ़ की राजनीति में एक ऐसा अधूरापन आ गया है, जिसे पूरा कर पाना असंभव सा है। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि उनकी पत्नि रानी साहिबा विभा सिंह और उनके प्यारे बच्चों को ईश्वर इस संकट से सामना करने संयम प्रदान करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button