International newsUncategorized

जर्मनी में मौसम ढा रहा है कहर, जान हथेली पर लिए जी रहे स्थानीय निवासी

गुरुवार को पश्चिमी जर्मनी में बाढ़ के कारण कम से कम छह घरों के ढहने के कारण चार लोगों की मौत हो गई और कई लापता हो गए। दो दिनों में आए भीषण तूफान में मरने वालों की संख्या 6 हो गई है। पुलिस का कहना है कि दक्षिण बॉन के अहरवीलर में 4 लोगों की मौत हो गई और 30 लापता हो गए है।

लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए बुधवार देर रात एक पुलिस हेलीकॉप्टर तैनात किया गया था। बाढ़ के पानी के तेज बहाव के कारण कुछ हिस्सों में बचावकर्मी खुद फंस गए हैं। पुलिस ने कहा कि पड़ोसी राज्य नॉर्थ राइन-वेस्टफेलिया के सॉरलैंड क्षेत्र में बुधवार को दो अग्निशामकों की मौत हो गई।

कोब्लेंज़ में एक पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि दमकलकर्मियों और बचावकर्मियों को व्यापक रूप से तैनात किया गया है। हमारे पास अभी बहुत सटीक तस्वीर नहीं है। राइनलैंड-पैलेटिनेट राज्य के प्रमुख मालू ड्रेयर ने कहा पूरा क्षेत्र बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हुआ है। कई लोगों की मौत हो गई है, बहुत से लोग अभी भी लापता है और कई लोग अभी भी खतरे में हैं। हमारी सभी आपातकालीन सेवाएं चौबीसों घंटे काम कर रही हैं। उन्होंने आगे कहा कि मैं इस बाढ़ आपदा के पीड़ितों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करती हूं।

बाढ़ का पानी घरों में घुस गया, जिससे लगभग 50 लोग छतों पर फंसे हुए थे। रात 2 बजे बाढ़ की चेतावनी जारी होने के बाद एक स्थानीय व्यक्ति बाढ़ से सुरक्षित बच निकला। 63 वर्षीय व्यक्ति ने एसडब्ल्यूआर टेलीविजन को बताया मैनें कभी ऐसी तबाही का अनुभव नहीं किया।

राज्य के प्रमुख आर्मिन लास्केट गुरुवार की सुबह हेगन शहर का दौरा करने वाले है, जो बाढ़ से भी प्रभावित हुआ है। बाढ़ से रेल और सड़क परिवहन बाधित हो गए था और राइन के कुछ हिस्सों पर शिपिंग को निलंबित कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Contact Us