Chhattisgarh

स्कूलों में विद्युतीकरण के नाम पर करोड़ों रुपयों का हुआ फर्जीवाड़ा, जाने क्या है पूरा मामला…

 सरगुजा। जिले के प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में विद्युतीकरण के नाम पर करीब 3 करोड़ रुपए के फर्जीवाड़ा करने के मामले में लोक निर्माण विभाग विद्युत यांत्रिकी के 3 इंजीनियर दो ठेकेदार के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. इस मामले की जानकारी देते हुए शिकायतकर्ता अधिवक्ता दिनेश सोनी ने बताया कि- सरगुजा जिले के सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत राजीव गांधी शिक्षा मिशन के तहत वर्ष 2011-12 एवं 12-13 में प्राथमिक व माध्यमिक शाला भवनों में विद्युतीकरण के कार्यों में फर्जी बिल वाउचर लगाकर शासकीय राशि गबन के मामले में परिवाद पेश किया गया था.

जिसमे परिवाद दायर कर न्यायालय द्वारा दिए गए आदेश के बाद पुलिस ने तात्कालिक कार्यपालन अभियंता एचएल शर्मा, सब इंजीनियर रीटा सेन, रूपाली सिन्हा, सीमा साहू व ठेकेदार गणपति कंट्रक्शन और निशीकांत त्रिपाठी के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है.

दिनेश सोनी, शिकायतकर्ता

उन्होंने बताया कि वर्ष 2011-12 व 12-13 में सर्व शिक्षा अभियान के तहत प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला में कुल 1005 स्कूलों में विद्युतीकरण कार्य 30 हजार रुपए प्रति शाला के हिसाब से करीब तीन करोड एक लाख 50 हजार रुपए की स्वीकृति प्रदान की गई थी. जहां शालाओं में बिना विद्युतीकरण कार्य किए राशि का भुगतान संबंधित ठेकेदार को कर दिया गया. इसके साथ ही कार्य पूर्णता प्रमाण भी जारी किया जा चुका है. उक्त कार्यों के संबंध में कमीशनर सरगुजा के समक्ष शिकायत दर्ज की गई थी. जिसके आधार पर जांच दल गठित कर जांच किया गया. मामले में दायर परिवाद पर मामले की सुनवाई करते हुए मुख्य न्यायाधीश दंडाधिकारी अंबिकापुर के न्यायालय ने संबंधित अधिकारियों ठेकेदारों के विरुद्ध प्रथम सूचना दर्ज कर अग्रिम कार्यवाही के निर्देश दिए गए है. जिसके आधार पर कोतवाली थाना अंबिकापुर के द्वारा धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं के तहत, तीन इंजीनियर,  दो ठेकेदार के खिलाफ मामला दर्जकर विवेचना की जा रही है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!