ChhattisgarhRaipur

फ्री में नाश्ता करने वाली दो महिलायें राजधानी में गिरफ्तार….

रायपुर। राजधानी से अजीबोगरीब मामला सामने आ रहा है, पुलिस ने दो सहेलियों को पकड़ा है। ये मुफ्त का खाना खाने की इतनी शौकीन रहीं हैं कि ठग बन गईं। एक दुकानदार की शिकायत पर इन्हें पकड़ा गया है। ये उस कारोबारी की दुकान में हर राेज जाया करती थीं, मुफ्त के पकवान खाती थीं। इन दोनों औरतों ने कारोबारी से कह दिया था कि हम सरकारी अफसर हैं, इसकी धौंस दिखाकर कारोबारी को दोनों महिलाएं पिछले कई दिनों से लूट रहीं थीं।

इन ठग महिलाओं के खिलाफ पुरानी बस्ती थाने की टीम ने कार्रवाई की है। गिरफ्तार हुई औरतों का नाम स्वाति तिवारी अस्थाना है जो कि रायपुर के शिवम विहार कॉलोनी की रहने वाली है। दूसरी औरत का नाम ममता शर्मा है ये हिमालय हाइट्स, डूमर तराई की रहने वाली है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, इनके खिलाफ सागर शर्मा नाम के कारोबारी ने शिकायत की थी। सागर का शीतला चौक भाठागांव में एक छाेटा सा रेस्टोरेंट है। यहां मिठाईयां, इंडियन स्नैक्स मिलते हैं। डेढ़ महीने पहले इसकी दुकान में स्वाति और ममता आए। दोनों ने सागर से कहा कि हम फूड डिपार्टमेंट की ऑफिसर हैं। लाइसेंस की जांच करनी है। दुकानदार ने लाइसेंस दिखाया जो एक्सपायर हो चुका था। दोनों महिलाओं ने नियम कानून बताया और कहा कि इसे रिन्यू करना होगा नहीं तो कार्रवाई होगी।

बार-बार दूकान आकर करने लगी नाश्ता

दुकानदार का कहना है कि मुझे डराकर इन औरतों से मुझ से 7 हजार रुपए ले लिए। इसके बाद बार-बार मेरी दुकान में आने लगीं और रुपए लेने लगीं। मुझसे कहा करती थीं कि तुम्हारी दुकान में छापा पड़ जाएगा। बदले में हमें नाश्ता कराओ तुमपर कार्रवाई रुकवा देंगे। रेस्टोरेंट में बने पकवान सागर इन्हें परोस देता था, खा-पीकर दोनों औरतें चली जाया करती थीं। इसी तरह हर रोज करीब 5 हजार रुपए का चाय नाश्ता दोनों महिलाएं डकार गईं। तंगआकर सागर ने इन महिलाओं के बारे में पता किया तो ये फर्जी निकलीं। फिर थाने जाकर कारोबारी ने इनकी शिकायत की।

पहले भी कई लोगों के साथ की ठगी 

पुलिस को जानकारी मिली है कि इन महिलाओं ने और भी लोगों के साथ ठगी की है। इन दोनों महिलाओं से अन्य मामलों की भी पूछताछ की जा रही है। बहुत से दुकानदारों ने पुलिस के पास डर के मारे शिकायत ही नहीं की कुछ तो इन्हें सच में फूड ऑफिसर समझकर इनके झांसे में आते रहे। इन महिलाओं को इनके घरों से ही पकड़ा गया है। पुलिस ने शुक्रवार को इन्हें कोर्ट में पेश किया जहां से इन्हें न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!