Chhattisgarh

खैरागढ़ उपचुनाव का रूझाने आने के बाद, नया जिला बनाने की प्रशासनिक तैयारी

खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के शुरुआती रुझान आने के साथ ही नया जिला बनाने की प्रशासनिक तैयारी शुरू हो गई है। बताया जा रहा है कि सरकार ने सामान्य प्रशासन और राजस्व विभाग के अफसरों को रविवार को भी काम पर बुला लिया है। कोशिश हो रही है कि शाम तक जिला गठन का शुरुआती नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाए। इसमें नए जिले की सीमा आदि पर दावा.आपत्ति भी मंगाने की प्रक्रिया भी शामिल होगी।

खैरागढ़ उपचुनाव में कांग्रेस ने बकायदा घोषणापत्र जारी किया था। इसमें पहला ही वादा नए जिले का था। इस जिले का नाम खैरागढ़-छुईखदान-गंडई होने वाला है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने चुनावी जनसभाओं में यह वादा बार-बार दोहराते रहे हैं। उन्होंने यहां तक कह दिया था, 16 अप्रैल को खैरागढ़ में कांग्रेस का विधायक बनेगा और 17 अप्रैल को खैरागढ़-छुईखदान-गंडई नया जिला बन जाएगा। कांग्रेस का पूरा प्रचार अभियान इस जिले के इर्द-गिर्द केंद्रित रहा।

अब जब यह साफ हो चला है कि कांग्रेस उम्मीदवार यशोदा वर्मा की जीत के सामने बड़ी चुनौती नहीं बची है, सरकार पर वादे को समयबद्ध ढंग से पूरा करने का दबाव है। वैसे कांग्रेस नेताओं का कहना है, इस मामले में सरकार ने अधिकारियों के साथ बैठक कर नए जिले की सीमा आदि पर पहले ही चर्चा कर ली है। 24 घंटे के भीतर जिला बनाने का वादा था। जीत की औपचारिक घोषणा के 24 घंटे के भीतर यह वादा पूरा कर दिया जाएगा।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!