National

अवैध संबंध ने मां को बनाया हत्यारन, दो बच्चों की बेरहमी से हत्या कर नहर में फेंका शव

उत्तरप्रदेश। मेरठ में अवैध संबंधों में मां ने अपने दो मासूम बच्चों की जान ले ली। महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर पहले बच्चों के हाथ-पैर बांधकर बेड के बॉक्स में बंद कर दिया। हालत बिगड़ने पर उन्हें बाहर निकाला और नशे का इंजेक्शन लगा दिया। इसके बाद गला दबाकर मार डाला। फिर प्रेमी शव को कार की डिग्गी में रखकर 25 किलोमीटर गंगनहर में फेंक दिया। फिर बच्चों के लापता होने की झूठी कहानी रची।

Related Articles

आरोपी महिला निशा खैरनगर गूलर गली की रहने वाली है। उसका पति शाहिद बेग लालकुर्ती पैठ में जूता दुकान में काम करता है। निशा बुधवार शाम घर पर अकेली थी। उसने ट्यूशन टीचर सलमान को भी घर आने से मना कर दिया था। बेटा मेराब (10) सेंट जोंस स्कूल में थर्ड क्लास और बेटी कोनेन (6) क्लास सेकेंड में पढ़ती थी। निशा ने बुधवार शाम को पति को फोन पर बताया कि दोनों बच्चे अचानक घर से लापता हो गए हैं। सूचना पर शाहिद तत्काल मौके पर पहुंचे। फिर आस-पास के बच्चों की काफी देर तक तलाश की। इसके बाद शाहिद पत्नी निशा के साथ देहली थाना पहुंचे। यहां बच्चों की मिसिंग कंप्लेन दर्ज कराई। शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस की 10 टीमें बच्चों की तलाश लग गई।

पुलिस ने इलाके के CCTV भी खंगाले और पति-पत्नी से पूछताछ की। पूछताछ में किसी रिश्तेदार से संपत्ति विवाद की बात सामने आ रही थी। पुलिस ने माता-पिता सहित रिश्तेदारों के मोबाइल डिटेल और कॉल डिटेल चेक की। इस दौरान मां निशा के फोन में इलाके के पूर्व पार्षद सऊद का नंबर मिला। जिससे निशा घटना वाले दिन में कई बार बात की थी। अफेयर के शक में पुलिस ने मां को थाने बुलवाया और पूछताछ शुरू की। पुलिस ने कहा कि CCTV से सारी कहानी खुल जाएगी। इसलिए सच बताओ। तब मां निशा ने डर के कारण खुद ही सच उगल दिया। इसके बाद पुलिस ने सऊद फैजी को भी उठाकर थाने ले आकर पूछताछ की।

निशा ने पुलिस को बताया कि चार साल पहले हम दोनों की मुलाकात हुई। पूर्व सऊद ने अपनी पत्नी को छोड़ दिया था। मां, बाप का इकलौता बेटा है। उसके पिता कोर्ट में पेशकार थे। उसके पास काफी दौलत थी। मुझे दौलत चाहिए थी और सऊद को प्यार। इसके बाद हम दोनों एक दूसरे के धीरे-धीरे नजदीक आ गए। पति जूता फैक्ट्री और बच्चों के स्कूल जाने पर सऊद घर पर आता था। मोहल्ले के दो लड़के इसमें शामिल थे। दोनों सऊद से पैसे लेते थे। निशा ने बताया कि कुछ दिनों बाद हम लोगों ने शादी करने का मन बना लिया। लेकिन दोनों बच्चे हम दोनों की शादी में आड़े आ रहे थे। इसलिए हम लोगों ने बच्चों की हत्या कर दी और फिर नहर में फेंक दिया। फिलहाल पुलिस दोनों बच्चों की शव की नहर में तलाश करा रही है। जल्द ही शव को बरामद कर लिया जाएगा।

Desk idp24

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!