ChhattisgarhRaipur

राजधानी में डॉक्टर से करीब 93 लाख की धोखाधड़ी, शेयर बाजार में पैसा लगाने का झांसा देकर आरोपियों ने बनाया शिकार

रायपुर। राजधानी रायपुर में शेयर बाजार में पैसा लगाने पर दोगुना कराने का झांसा देकर करीब 93 लाख की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार आरोपियों ने शेयर मार्केट में राशि इन्वेस्ट कराकर डबल मुनाफा देने का झांसा देकर मेकाहारा के डॉक्टर से 92 लाख 45 हजार रूपए की ठगी की है। जब आरोपी दंपति से डॉक्टर ने अपना पैसा वापस मांगा तो आरोपी मुकर गए और फोन उठाना बंद कर दिया। जिसके बाद प्रार्थी ने इसकी शिकायत पुलिस से की। यह पूरा मामला मौदहापारा थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के अनुसार, प्रार्थी डॉ. झरना साहू ने पुलिस को बताया कि मेकाहारा में पदस्थ है। मेकाहारा के फार्मा डिपार्टमेंट में पदस्थ डॉ. सुनीता निम्बालकर से पूर्व से परिचित थी। वर्ष 2018 में डा. सुनीता निम्बालकर के माध्यम से डॉ झरना साहू ओम कांप्लेक्स फाफाडीह में राकेश भभूतमल जैन और उसकी पत्नी शीतल जैन से मिली थी। दंपत्ति ने अपने आप को चार्ट्ड एकाउंटेंट बताया। डॉ सुनीता निम्बालकर ने पीडि़ता को बताया, कि वो शेयर मार्केट में जैन दंपत्ति के कहने पर पैसा इनवेस्ट करती है और उसे मुनाफा मिलता है। डॉ झरना ने उनसे शेयर बाजार के बारे में पूछा, तो जैन दंपत्ति ने झांसे में लेकर उनसे किश्तों में 35 लाख 50 हजार रुपए लिया। कुछ दिनों बाद आरोपी राकेश जैन ने डॉ सुनीता के माध्यम से डॉ झरना को 5 लाख रुपए दिए। कुछ दिनों बाद आरोपी ने अच्छी स्कीम का झांसा दिया और डॉक्टर को अलग-अलग बैंकों से 95 लाख 81 हजार 728 रुपए का लोन दिया। लोन प्रोसेस फीस काटकर डॉक्टर के खाते में 74 लाख 13 हजार 85 रुपए आया। इस पैसों को किश्तों में आरोपी ने डॉक्टर के खाते से ट्रांसफर कर लिया। डॉक्टर झरना पढ़ाई के लिए मुंबई चली गई, तो आरोपी ने पैसे देना बंद कर दिया और फिर फोन उठाना बंद कर दिया। रायपुर वापस आकर डॉ झरना ने डॉ. सुनीता निम्बालकर से आपबीती बताई, तो डा. सुनीता निम्बालकर ने आरोपी द्वारा उनका पैसा लेकर फरार होने की बात बताई। आरोपी की इन हरकतों से परेशान होकर डॉ झरना ने पुलिस में शिकायत की है। पुलिस ने मामले में जांच शुरु कर दी है।

Desk idp24

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!