National

जल्लीकट्टू का खेल शुरू, बैल पकड़ने के दौरान 19 घायल, 11 अस्पताल में भर्ती

Jallikattu : तमिलनाडु स्थित मदुरै के अवनियापुरम गांव में आज से जलीकट्टू 2023 की शुरुआत हो गई है। बता दें कि जल्लीकट्टू कार्यक्रम की शुरुआत मदुरै के तीन गांवों में किया जाएगा। जिसमें अवनियापुरम में जलीकट्टू आज यानी 15 जनवरी से शुरू, 16 जनवरी को पलमेडु और 17 जनवरी को अलंगनाल्लुर में जल्लीकट्टू खेला जाएगा। बता दें कि इससे पूर्व जलीकट्टू को लेकर जिला प्रशासन द्वारा कुछ दिशानिर्देश भी जारी किए हैं। इधर अवनियापुरम में जल्लीकट्टू के खेल में 19 लोग घायल हुए हैं, वहीं 11 को बेहतर इलाज के लिए मदुरै के सरकारी राजाजी अस्पताल भेजा गया है।

मदुरै जिला कलेक्टर अनीश शेखर ने कहा कि जलीकट्टू का संचालन सुचारू रूप से चल सके इसके लिए सभी उचित प्रबंध किए गए हैं। खिलाड़ी और सांड दोनों की सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। जिस स्थान पर जलीकट्टू खेला जाएगा वहां 3 वस्तर की बैरिकेडिंग सुविधा लगाई गई है। जिला कलेक्टर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट व राज्य सरकार के सभी नियमों का पालन किया जाएगा। हाईकोर्ट के मुताबिक केवल 25 लोग ही एक बार में खेल सकेंगे और 300-800 से अधिक खिलाडियों के पूरे आयोजन में भाग लेने की उम्मीद है।क्या है जल्लीकट्टू?
जलीकट्टू पोंगल के त्योहार के दौरान तमिलनाडु में मनाया जाता है। इस दौरान मवेशियों को पूजा जाता है और इसलिए जल्लीकट्टू के नाम से कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। जलीकट्टू के खेल के दौरान एक सांड को बीच में छोड़ दिया जाता है और वहां मौजदू खिलाड़ी अधिक से अधिक समय तक सांड के कूबड़ को पकड़कर उसे काबू करने का प्रयास करते हैं।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!