National

सवा करोड़ लाड़ली बहनों को लाभान्वित करने जुटी टीम मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री श्री चौहान को जिलों में हुए नवाचारों की दी गई जानकारी

Related Articles

भोपाल / मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना बहनों के जीवन में ऐतिहासिक परिवर्तन लाने वाली योजना होगी। योजना के बेहतर अमल के लिए टीम मध्यप्रदेश ने जुट कर कार्य किया है। करीब सवा करोड़ बहनों को योजना का लाभ दिलवाने के लिए जिलों में किए गए प्रयास प्रशंसनीय हैं। सामाजिक संगठन, प्रशासनिक अधिकारी और जन-प्रतिनिधि मिल कर योजना को नया आयाम दे रहे हैं। योजना का अधिक से अधिक लाभ पात्र बहनों को मिले, जिससे योजना के लिए राशि अंतरण का कार्य निर्धारित तिथि 10 जून से बिना बाधा के हो जाए और बहनों को राशि प्राप्त होने लगे, इसके लिए जिलों में अनेक तरह के नवाचार भी किए गए। बुधवार देर रात को हुई समीक्षा बैठक में जन-प्रतिनिधियों और कलेक्टर्स ने योजना क्रियान्वयन के लिये किये गये नवाचारों से अवगत कराया।

जिलों में हुए नवाचार

कलेक्टर दतिया ने बताया कि व्हाट्सएप पर भी लाड़ली बहनों के ग्रुप बनाए गए हैं। आठ जून को ग्राम सभा के बाद बहनें सामाजिक क्षेत्र में नेतृत्वकारी भूमिका निभाने का संकल्प लें, ऐसी रूपरेखा बनाई गई। योजना से बहनों के जीवन में होने वाले परिवर्तनों का उल्लेख विभिन्न मंचों पर किया गया। इसी तरह 9 जून को दतिया जिले में सितोलिया और स्थानीय खेल होंगे। इन्हें आनंद उत्सव का नाम दिया गया है। इसमें महिलाओं के समूह घर से व्यंजन बना कर लाएंगे और मिल-बैठ कर साथ खाएंगे। इससे हितग्राही बहनों के मध्य मैत्रीपूर्ण संबंध विकसित होंगे। नगरीय क्षेत्रों में बैंड और डीजे से उत्सव का वातावरण बनाया जाएगा।

उज्जैन जिले के जन-प्रतिनिधियों ने बताया कि बड़ी पंचायतों में बहनों को स्वीकृति पत्र प्रदान करने के अवसर पर नुक्कड़ नाटक किए गए। हितग्राहियों के निवास पर लाड़ली बहना का चित्र/फ्लेक्स प्रदर्शित कर योजना को प्रचारित किया जा रहा है।

टीकमगढ़ जिले के कलेक्टर और जन-प्रतिनिधियों ने बताया कि 10 जून के कार्यक्रम के लिए साफों का प्रबंध किया गया है, जो कार्यक्रम में अतिथियों और गणमान्य नागरिकों को पहनाए जाएंगे। साथ ही लोकगीतों का कार्यक्रम भी होगा। बहनों को आमंत्रित करने के लिए पीले चावल दिए गए हैं।

बुरहानपुर जिले के जन-प्रतिनिधियों ने बताया कि जिले में प्रेरित और प्रोत्साहित करने वाले नारों का उपयोग किया गया है। लाड़ली बहना योजना की जानकारी जन-जन तक पहुँच चुकी है।

मंदसौर कलेक्टर ने जिले में हुए नवाचारों की जानकारी दी। विधायक श्री यशपाल सिंह सिसोदिया ने बताया कि वार्डों और ग्रामों में कलश यात्रा और दीपोत्सव की पहल की गई है। जिले में बड़ी संख्या में दीवार लेखन का कार्य हुआ है

विधायक श्री उमाकांत शर्मा ने विदिशा जिले में भी नवाचार जानकारी दी। उन्होंने बताया कि महिलाओं को योजना के स्वीकृति-पत्रों के वितरण के दौरान सम्मान स्वरूप साफा बांधा गया। हल्दी से पाँव पखारे गए और आशीर्वाद लिया गया। गाँव में भी महिलाओं को साफा बांधा गया। बताशों का वितरण किया गया। आगामी 10 जून को भी बहनों के पाँव पखारे जाएंगे। साथ ही रोशनी की जाएगी और आतिशबाजी भी होगी।

राजधानी भोपाल में भी मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना को उत्सवी स्वरूप दिया गया है। नवाचारों में 10 जून को विभिन्न चौराहों की विशेष साज-सज्जा करने की तैयारी की गई है।

Desk idp24

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!