Chhattisgarh

सिंहदेव ने गुस्से में कह दी बड़ी बात, कहा-एक सीट से कोई मतलब नहीं रहेगा, चाहे अच्छा हो या बुरा

बलरामपुर। बलरामपुर जिले के सामरी विधानसभा क्षेत्र के राजपुर में आयोजित भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान उप मुख्यमंत्री टी एस सिंहदेव का गुस्सा लोगों ने पहली बार देखा। उन्होंने छत्तीसगढ़ के 90 विधानसभा में से एक विधानसभा सीट में कोई दखल नहीं देने की बात कही है।

“इस पर वे कभी समझौता नहीं करेंगे”

उप मुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा “मैं एक सीट से कोई भी मतलब नहीं रखूंगा, जो हो सो हो, चाहे अच्छा हो या बुरा हो।” टीएस सिंहदेव ने मंच से इशारों-इशारों में ही अपनी नाराजगी जाहिर कर दी है। टीएस सिंहदेव का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। राजपुर के मंडी प्रांगण में टीएस सिंहदेव ने मंच से कहा “महाराज और महारानी के ऊपर जो टिप्पणी हुई उसे वो कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उन पर जान से मारने का आरोप लगा है इस पर वो समझौता कभी नही करेंगे।”

किसी भी मौके पर शांत रहकर सुलझा हुआ जवाब देने वाले सिंहदेव ने यह इशारा किसकी ओर किया यह सभी जानते हैं। यही वजह थी कि जब सिंहदेव यह बात बोल रहे थे तब क्षेत्र की जनता तालियां बजा रही थी। हालांकि उनके उद्बोधन से पूर्व कार्यकर्ताओं ने क्षेत्रीय विधायक की गतिविधियों से अवगत कराया और अपनी नाराजगी व्यक्त की और उप मुख्यमंत्री से संबंधित विधानसभा में नए प्रत्याशी उतारने की मांग की।

एक सीट से खुद को पृथक रखने का ऐलान

कार्यकर्ताओं की मांग को सुनने के पश्चात टीएस सिंह देव ने सारी जिम्मेदारी कार्यकर्ताओं को सौंपते हुए, उस विधानसभा से अपने आप को पृथक रखने का ऐलान कर दिया। उन्होंने अपने बयान में भले ही कोई नाम नहीं लिया, लेकिन उनका इशारा सीधे-सीधे कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह की ओर था।

गौरतलब है कि पूर्व में विधायक बृहस्पति सिंह ने सिंहदेव पर जान से मारने की साजिश में शामिल होने का आरोप लगाया था। यह मामला खूब परवान चढ़ा और तब सिंहदेव ने अपनी नाराजगी जताते हुए विधानसभा में भी अपने तेवर दिखाए थे। तब बृहस्पति सिंह ने सिंहदेव से माफी मांग ली थी। जरा सुनिए, सिंहदेव ने भरी सभा में क्या बात कही :

Desk idp24

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!