ChhattisgarhRajnandgaon

नेशनल हाईवे में पुलिस आरक्षक की हत्या, गले पर मिले गहरे चोट के निशान…

राजनांदगांव   : राजनांदगांव जिले के सोमनी थाना क्षेत्र में शनिवार को पुलिस आरक्षक की हत्या  कर दी गई। यहां नागपुर नेशनल हाईवे- 53 पर सोमनी और ठाकुर टोला के बीच आरक्षक संतोष यादव (35 वर्ष) की लाश मिली। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची।

CSP गौरव राय ने बताया कि पुलिस आरक्षक संतोष यादव पुलिस लाइन में ड्राइवर था। पता चला है कि वो शुक्रवार रात अपने घर से खाना खाने के बाद टहलने के लिए निकला था, लेकिन फिर वापस नहीं लौटा। आज सुबह उसका शव हाईवे के किनारे मिला। उन्होंने कहा कि आरक्षक के गले पर गहरा निशान है, इसलिए शुरुआती जांच में हत्या की आशंका जताई जा रही है। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है और रिपोर्ट आने के बाद मौत की सही वजहों का खुलासा हो सकेगा।

CSP गौरव राय ने बताया कि आरक्षक मूल रूप से उत्तर प्रदेश के वाराणसी का रहने वाला था और यहां पुलिस लाइन में अपनी पत्नी और बच्चे के साथ रहता था। आरक्षक संतोष यादव के पिता बीएन यादव कबीरधाम के कुंडा थाने में ASI हैं।

एसपी प्रफुल्ल ठाकुर पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लिया। डॉग स्क्वॉड और फॉरेंसिक विशेषज्ञों की मदद ली जा रही है। उन्होंने पुलिस टीम से जल्द आरोपियों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि संतोष यादव के शरीर पर चोट के कई निशान पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि आरक्षक संतोष यादव को लोगों ने कुछ युवकों के साथ घटनास्थल पर देखा था। आशंका जताई जा रही है कि विवाद के बाद आरक्षक की हत्या की गई है। हालांकि फिलहाल पुलिस पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!