ChhattisgarhRaipur

इस बार की हरेली होंगी खास, छात्र गेड़ी नृत्य में दिखाएंगे प्रतिभा…

रायपुर : छत्तीसगढ़ में कृषि सहित कृषि-संस्कृति के प्रमुख त्योहार ‘हरेली’ प्रमुखता के साथ मनाया जाता है. ‘हरेली-तिहार’ के दौरान इस बार तमाम शासकीय और अनुदान प्राप्त स्कूलों के साथ-साथ जिला एवं ब्लॉक मुख्यालय स्तर पर विशेष आयोजन किए जाएंगे, जिसमें छात्र-छात्राओं के साथ-साथ गणमान्य नागरिकों की भी सहभागिता होगी.

स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव डॉ. एस भारतीदासन की ओर से सभी कलेक्टर व जिला शिक्षा अधिकारियों को जारी पत्र किया गया है. इसमें ‘हरेली-तिहार’ के दौरान तमाम प्राथमिक, पूर्व माध्यमिक, हाई तथा हायर सेकंडरी स्कूलों, आश्रम शालाओं, छात्रावासों में स्थानीय जनप्रतिनिधि, शाला प्रबंधन समिति, स्थानीय कला एवं संगीत मंडलियों की सहायता से कार्यक्रम आयोजित करने कहा गया है. स्कूलों में गणमान्य नागरिकों की मौजूदगी में ‘गेड़ी नृत्य प्रतियोगिता’ का विशेष आयोजन किया जाए. प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत करने के साथ प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा.

इसके अलावा जिला और विकासखंड मुख्यालय में कृषि और वन विभाग के सहयोग से ‘पर्यावरण संरक्षण और हरेली की महत्ता’ पर केंद्रित संगोष्ठियों का आयोजन करने कहा गया है. इस अवसर पर कृषि के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने वाले उन्नत कृषकों, प्रयोगधर्मी कृषकों को विशेष तौर पर सम्मानित किया जाएगा. इसके अलावा स्कूलों में वृक्षारोपण के लिए प्राकृतिक बाउंड्रीवाल तैयार करने विशेष अभियान चलाया जाएगा. इसके अतिरिक्त विद्यालय परिसरों में फलदार-छायादार पौध रोपण भी कराया जाएगा और वृक्षारोपण को गोद लेने की व्यवस्था की जाएगी, जिससे पौधों की सुरक्षा हो सके.

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!