National

आज हिन्दी पत्रकारिता दिवस , जानिए इतिहास से लेकर सबकुछ

आज 30 मई को हिन्दी पत्रकारिता को 197 वर्ष हो जाएंगे। बता दें कि हर साल आज के दिन यानी 30 मई को हिन्दी पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है। आज हम इस मौके पर आपको हिन्दी पत्रकारिता के आरंभ के बारे में बताने जा रहे हैं। वैसे तो हिन्दी पत्रकारिता कितनी साल पुरानी है यह कहना मुश्किल है, पर माना जाता है कि हिन्दी पत्रकारिता का उद्भव ‘उदन्त मार्तण्ड के साथ हुआ। आज ही के दिन साल 1826 में इस हिंदी भाषी अखबार का पहला प्रकाशन कोलकाता से शुरू हुआ।

Related Articles

उदन्त मार्तण्ड’ क्रांतिकारी अखबारों में से एक था। ये साप्ताहिक अखबार ईस्ट इंडिया कंपनी की दमनकारी नीतियों के खिलाफ खुलकर लिखता था। बता दें कि ये अखबार 8 पेज का होता था और ये हर मंगलवार को निकलता था। ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ खबरें छापने के चलते अंग्रेजी सरकार ने इस अखबार के प्रकाशन में अड़ंगे लगाना शुरू कर दिया था। फिर भी पंडित जुगल किशोर शुक्ल झुके नहीं, वे हर सप्ताह अखबार में और धारदार कलम से अंग्रेजों के खिलाफ लिखते।

जनमोर्चा के संपादक स्वर्गीय शीतला सिंह सम्मान से सम्मानित होंगे पत्रकार

उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार यूनियन गोण्डा आगामी 30 मई को आयोजित पत्रकारिता दिवस पर यश भारती सम्मान प्राप्त दैनिक जनमोर्चा के प्रधान संपादक रहे स्व.शीतला सिंह की स्मृति में अपने पत्रकार साथियों को शीतला सिंह सम्मान से सम्मानित करेगा।

आर्थिक तंगी के चलते 4 दिसंबर 1826 को बंद हो गया यह अखबार

आर्थिक तंगी के चलते 4 दिसंबर 1826 को यह अखबार बंद हो गया। उदन्त मार्तण्ड के पहले प्रकाशन के दौरान करीब 500 प्रतियां छापी गई थी। हिंदी अखबार होने के नाते कोलकाता शहर में इसके पाठक ना के बराबर थे। इस अखबार को डाक के जरिए। कई राज्यों में भेजा जाता था।

Desk idp24

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!