Chhattisgarh

फर्जी किसान बनकर 53 हजार लोगों ने ली पीएम किसान सम्मान निधि, जानें कैसे

रायगढ़: रायगढ़ जिले में 2 साल पहले प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के नाम पर करोड़ों रुपए का फर्जीवाड़ा सामने आया था, जिसमें लगभग 17 हजार अपात्र किसानों ने फर्जी तरीके से ऑनलाइन के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर लगभग 25 करोड का फर्जीवाड़ा किया था. इस फर्जीवाड़ा में अब बढ़कर 53 हजार किसान हो गए हैं, जिनसे लगभग 43 करोड़ रुपए की राशि वसूल की जानी है.

ऐसे में कृषि विभाग अब अपात्र किसान की सूची तैयार कर राजस्व विभाग से वसूलने की प्रयास कर रही है. केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी योजनाओं में से एक किसानों के खातों में हर साल 6 हजार रुपए तीन किस्तों में देने की योजना बनाई थी. योजना का उद्देश्य था कि किसानों को अतिरिक्त लाभ मिल सके. योजना की शुरुआत में ऑनलाइन में अपात्र किसानों को पात्र करते हुए ऑनलाइन माध्यम से उनका पंजीयन कर दिया था.

इस तरह मोटी रकम अपात्र किसानों के खाते में जमा हो गई. जब जिला प्रशासन को इसकी जानकारी लगी तब तक जिले में कई ऐसे किसान जिनके जमीन का रकबा और गलत मोबाइल नंबर का पंजीयन कर अपने खातों में किसान सम्मान निधि का पैसा ले लिया गया था, जिसके बाद कृषि विभाग ने रकबा सत्यापन और आधार लिंक कर पात्र किसानों की सूची पटवारी के माध्यम से लिया था.

Desk idp24

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!