Chhattisgarh

अनुपस्थित 11 शिक्षकों पर बड़ी कार्रवाई, वेतन में की गई कटैती, तीन दिन के भीतर मांगा गया जवाब

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही। जिला शिक्षा अधिकारी ने प्राचार्य शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खोडरी को पत्र जारी कर उनके अधीनस्थ 11 शिक्षकों द्वारा अपने कर्तव्य से अनुपस्थित पाए जाने पर उनके एक दिवस का वेतन अवैतनिक किया गया है। इनमें व्याख्याता शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खोडरी एस. के. महादेवा, अनिल कुमार तिवारी, नीलम पाठक, हेमंत पाण्डेय, दीप्ति चौनसरिया एवं प्रहलाद दुधेश्वर, व्यायाम शिक्षिका पुष्पा निषाद, सहायक ग्रेड-03 ममता धुर्वे एवं सुनील कुमार नेताम, प्रधान पाठक प्राथमिक शाला खोडरी संतोष कुमार सोनले और शिक्षिका पूर्व माध्यमिक शाला खोडरी तृप्ति चौहान शामिल है।

जिला शिक्षा अधिकारी ने प्राचार्य को जारी पत्र में कहा है कि संकुल शैक्षिक समन्वयक द्वारा 5 दिसंबर 2022 को आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण दिनांक को संस्था से बिना सूचना एवं अवकाश स्वीकृति के आपके अधीनस्थ शिक्षकों एवं कर्मचारियों की अनुपस्थिति से प्रतीत होता है कि आपका अपने संस्था में अधीनस्थों पर कोई नियंत्रण नहीं है। यह स्थिति शासकीय कार्य के प्रति लापरवाही, कर्तव्य के प्रति उदासीनता एवं अनुशासनहीनता को स्पष्ट प्रगट करता है, जो कि छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम 03 के विपरीत है। अतः निर्देशित किया जाता है कि आप संबंधितों से उनके अनुपस्थिति के संबंध में स्पष्टीकरण प्राप्त कर अपने अभिमत सहित 03 दिवस के अंदर समक्ष में उपस्थित होकर अपना स्पष्टीकरण प्रस्तुत करें।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!