NationalUncategorized

मऊ इंटरसिटी एक्सप्रेस में बम!

उत्तर प्रदेश के मऊ  में गुरुवार को गोरखपुर) से वाराणसी जा रही इंटरसिटी एक्सप्रेस  ट्रेन में हलचल मच गई. जानकारी के मुताबिक गुरुवार की देर शाम जैसे ही ट्रेन मऊ जंक्शन पर पहुंची तो आरपीएफ और जीआरपी के जवानों ने ट्रेन को घेर लिया और बम की तलाश में सघन तलाशी अभियान चलाया. लेकिन उन्हें ट्रेन में बम नहीं मिला. लेकिन ट्रेन में गैस सिलेंडर ले जा रहे एक युवक को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि युवक पढ़ाई करता है और वह अपने साथ गैस सिलेंडर ले जा रहा था और उसमें थोड़ी गैस थी.

बताया जा रहा है कि ट्रेन की सभी बोगियों को सर्च ऑपरेशन चलाया गया और जांच की गई. मऊ स्टेशन पर आधे घंटे तक ट्रेन को रोककर चेक किया गया. जांच के बाद रेलवे पुलिस की टीम ने रेल यात्रा में प्रतिबंधित एलपीजी सिलेंडर के साथ एक युवक को गिरफ्तार कर लिया और वह बेल्थरा रोड स्टेशन से ट्रेन में सवार हुआ था. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक आरपीएफ प्रभारी अजय कुमार सिंह ने बताया कि आरोपी युवक को प्रतिबंधित एलपीजी सिलेंडर के साथ रेलवे एक्ट की धारा 165 के तहत गिरफ्तार किया गया है. वहीं मऊ जंक्शन स्थित आरपीएफ सेंटर में मुखबिर से सूचना मिली कि गोरखपुर से वाराणसी जा रही इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन में एक युवक बम लेकर आया है. जिसके बाद ट्रेन की जांच की गई

मऊ स्टेशन पर ट्रेन को रोका

असल में ट्रेन में बम होने की सूचना मिलते ही रेलवे पुलिस हरकत में आ गई और आरपीएफ प्रभारी अजय कुमार सिंह की देखरेख में ट्रेन की जांच की गई. लेकिन इस दौरान फोर्स को कुछ नहीं मिला और बाद में ट्रेन को रवाना किया गया.

सिलेंडर में मिली गैस

सूचना के आधार पर जब रेलवे पुलिस ने ट्रेन की जांच की तो जांच के दौरान ट्रेन के इंजन साइड के एसएलआर नंबर 217256 सी की संयुक्त चेकिंग की गई. वहीं पर शौचालय के पास एक बोरी को देखा गया और वहां पर एक युवक खड़ा था. जब उसकी जांच की गई तो उसके पास से किताबें, कुछ बर्तन, गैस रेगुलेटर और 5 किलो का छोटा सिलेंडर मिला जिसमें करीब 1 किलो एलपीजी मिली. जिसके बाद युवक को गिरफ्तार कर लिया गया. युवक की पहचान वाराणसी के जनसा जिले के सिसवा थाना क्षेत्र के निवासी आशीष कुमार के पुत्र 24 वर्षीय अमित कुमार के रूप में हुई. उसने बताया कि वह बेल्थारा रोड स्थित एक कॉलेज में पढ़ाता है. वही पुलिस ने रेल में ज्वलनशील पदार्थ ले जाने के आरोप में गिरफ्तार किया है.

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!