National

‘हल्ला बोल’ रैली में जमकर बरसे राहुल गांधी, बोले- हमें बोलने नहीं दिया जाता…महंगाई, नफरत सहित अन्य मुद्दों पर केंद्र सरकार पर साधा निशाना

नई दिल्ली। देश में बढ़ती महंगाई को लेकर कांग्रेस आज दिल्ली के रामलीला मैदान में मोदी सरकार के खिलाफ हल्ला बोल रैली किया। वहीं रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी पीएम नरेंद्र मोदी और भाजपा पर जमकर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा इसलिए शुरू की जा रही है क्योंकि हमारे सभी रास्ते बंद कर दिए गए हैं। इसके साथ ही राहुल गांधी ने विपक्ष को संदेश दिया है और अन्य मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार पर जमकर बरसे।

रैली में राहुल गांधी ने उद्योगपतियों से लेकर मीडिया तक पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि केंद्र में भाजपा की सरकार आने के बाद से देश में नफरत और लोगों में गुस्सा बढ़ता जा रहा है। देश में महंगाई और बेरोजगारी का डर बढ़ रहा है और इसके परिणामस्वरूप नफरत बढ़ रही है, नफरत से देश कमजोर होता है। राहुल गांधी ने कहा कि यूपीए सरकार ने 27 करोड़ लोगों को गरीबी से बाहर निकाला लेकिन मोदी सरकार ने मात्र 8 साल में 23 करोड़ लोगों को गरीबी में धकेल दिया।

हमें बोलने नहीं दिया जाता- राहुल गांधी

राहुल गांधी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे लिए सरकार ने सभी रास्ते बंद कर दिए हैं। संसद में विपक्ष के नेताओं का माइक बंद कर दिया जाता है, हमें बोलने नहीं दिया जाता। चुनाव आयोग, न्यायपालिका पर सरकार का दबाव बना हुआ है। इसलिए अब हम जनता के बीच में जाकर, जनता को देश की सच्चाई बताएंगे। इसीलिए कांग्रेस पार्टी भारत जोड़ो यात्रा शुरू कर रही है। उनके ‘विपक्ष’ शब्द के इस्तेमाल को लेकर दूसरे दलों के नेताओं को संदेश माना जा रहा है कि 2024 के चुनाव में बीजेपी को हराने के लिए सभी दलों को एकसाथ आना होगा।

केंद्र सरकार पर वार करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि यह सरकार देश में डर पैदा कर रही है ताकि हिंदुस्तान में नफरत बढ़े। इससे महंगाई, बेरोजगारी और भविष्य का डर बढ़ रहा है। बीजेपी और आरएसएस के नेता देश को बांटते हैं और जानबूझकर देश में भय पैदा करते हैं। देश में बढ़ रहे इस डर का फायदा केवल दो उद्योपति उठा रहे हैं। आपके डर और नफरत का फायदा इन्हीं के हाथों में जा रहा हैं। बीते 8 साल में किसी और को कोई फायदा नहीं हुआ। तेल, एयरपोर्ट, मोबाइल का पूरा सेक्टर इन्हीं दोनों उद्योगपतियों को दिया जा रहा है।

राहुल गांधी ने कृषि कानूनों के लिए कहा कि ये तीनों कानून उद्योगपतियों के लिए लाए गए थे। किसानों की ताकत ने इन कानूनों को वापस लेने पर मजबूर कर दिया। हिंदुस्तान में आम नागरिक मुश्किल में हैं। जीएसटी ने छोटे कारोबारियों को खत्म कर दिया और रोजगार इन्हीं से मिलता है। आप पूछते हैं कांग्रेस ने क्या किया. मैं बताता हूं कि 70 साल में कांग्रेस ने ऐसी महंगाई कभी नहीं दिखाई।

राहुल गांधी ने कहा कि केंद्र सरकार केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है। मुझसे 55 घंटे ईडी ने पूछताछ की, मैं आपकी ईडी से नहीं डरता हूं। आप मुझसे 55 घंटे या फिर 5 साल तक पूछताछ करते रहो, मुझे नहीं फर्क पड़ेगा। इसके साथ ही राहुल ने बताया कि यूपीए सरकार में 27 करोड़ लोगों को गरीबी से निकाला। भोजन का अधिकार, नरेगा, कर्जा माफी की योजनाओं के जरिए ऐसा किया। लेकिन अब मोदी सरकार ने वापस 23 करोड़ लोगों को वापस गरीबी में डाल दिया। जो काम हमने 10 साल में किया, उन्होंने 8 साल में खत्म कर दिया।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!