ChhattisgarhRaipur

RAIPUR CRIME : करोड़ो रूपये की ठगी करने वाले 3 विदेशी नागरिक गिरफ्तार

रायपुर। सोशल मीडिया के माध्यम से महिलाओं को झांसे में लेकर करोड़ो रुपये की ठगी करने वाले 3 विदेशी नागरिकों को रायपुर पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपी सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिए देश भर की सैकडों महिलाओं को झांसे में लेकर ठगी की घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। मैट्रीमोनियल साईट में फर्जी आईडी बनाकर प्रार्थिया महिला को अपने झांसे में लेकर आरोपी उन्हें शिकार बनाते थे।

Related Articles

मामले में पंडरी निवासी प्रार्थियां ने थाना पंडरी में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया कि वह पेशे से डॉक्टर है। प्रार्थिया का परिचय मैट्रीमोनियल साईट के माध्यम से विकास कुमार नामक व्यक्ति निवासी स्कॉटलैण्ड से हुई तथा दोनों के मध्य व्हाट्सएप कॉल के माध्यम से दिनांक 14 अप्रैल 2023 से बातचीत शुरू हुई। विकास कुमार एवं प्रार्थिया दोनों आपस में बात कर विवाह करने हेतु तैयार हुए तथा विकास कुमार द्वारा प्रार्थिया को बताया गया कि उसकी एक पुत्री है। इसी दौरान विकास कुमार ने प्रार्थिया को कहा कि वह विवाह हेतु तथा उसकी पुत्री के जन्मदिन के अवसर पर पार्सल के माध्यम से गिफ्ट भेज रहा है, कि दिनांक 27 अप्रैल को प्रार्थिया के मोबाईल फोन पर फोन कर स्वयं को कस्टम विभाग से होना कहकर पार्सल रिसीव हेतु 35, हजार रूपये की मांग किया जिस पर प्रार्थिया द्वारा उसके बताये बैंक खाते में रूपये जमा कर दिया गया फिर प्रार्थिया के मोबाईल फोन में फोन कर कहा कि आपके पार्सल में विदेशी मुद्रा भी आया है जिसका पेनाल्टी देना पड़ेगा जिस पर प्रार्थिया ने उनके बताये बैंक खाता में रकम जमा कर दिया। इसी प्रकार प्रार्थिया के मोबाईल नंबर में फोन कर पेनाल्टी के नाम पर पुनः रकम की मांग किया जिस पर प्रार्थिया द्वारा उनके बताये खाते में रकम जमा किया गया। इस प्रकार प्रार्थिया द्वारा अलग – अलग तिथियों, किश्तों व बैंक खातों में कुल 13,55,हजार रूपये जमा किया गया। प्रार्थिया को डरा धमकाकर और रूपयों की मांग की जा रहीं थीं, जिस पर प्रार्थिया को स्वयं के साथ ठगी होने का एहसास हुआ कि प्रार्थिया की रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना पंडरी में अपराध पंजीबद्ध किया गया।

मामले की गंभीरता को देखते हुए रायपुर एसएसपी के निर्देश पर तत्काल एफआईआर दर्ज कर विशेष टीम को आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए लगाया था। पुलिस को ठगी के तरीके से नाइजीरियन गिरोह के होने की आशंका थी। दिल्ली में टीम ने कैंप लगाकर लगातार काम किया और आरोपियों को गिरफ्तार किया। आरोपी ईमानुअल और पोलिनुस मूलतः नाइजीरिया और अगस्टीन बेनिन देश का रहने वाला है। आरोपी दिल्ली के सैनिक विहार कॉलोनी मोहन गार्डन स्थित एक मकान में कॉल सेंटर संचालित कर पूरे भारत देश में ठगी करते थे। आरोपी ईमानुअल और पोलिनुस पहले भी विजा अवधि खत्म होने पर दिल्ली में अवैध रूप से निवास करने के प्रकरण में दिल्ली से विदेशी अधिनियम के तहत जेल निरुद्ध रह चुके है।

14 विदेशी अधिनियम के तहत अपराध दर्ज

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से अपराध से संबंधित 19 मोबाईल फोन, 1 लैपटॉप, 31 अलग-अलग बैकों के एटीएम कार्ड, 22 पासबुक, 35 चेकबुक और 1 सिमकार्ड जब्त किया है। आरोपी ईमानुअल और पोलिनुस की विजा अवधि वर्तमान में खत्म हो गई है। जो दिल्ली में अवैध रूप से कर रहे थे। जिस पर दोनों आरोपियों के खिलाफ प्रकरण में अलग से 14 विदेशी अधिनियम भी लगाया गया है। आरोपियों को दिल्ली से गिरफ्तार कर ट्रांजिट रिमाण्ड पर रायपुर लाया गया है। वहीं सभी के खिलाफ थाना पंडरी में आई।टी। एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। आरोपियों के खिलाफ आंध्रप्रदेश, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, महाराष्ट्र, तमिलनाडु और तेलंगाना सहित अन्य राज्यों के अलग-अलग जिलों में कुल 19 अपराध दर्ज हैं। जिनमें आरोपियों द्वारा पीड़ितों से की गई है करोड़ो रुपये की ठगी शामिल है। रायपुर पुलिस द्वारा उक्त राज्यों की पुलिस से संपर्क कर गिरफ्तार आरोपियों के संबंध में जानकारी साझा की जा रही है।

Desk idp24

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!