National

Shraddha Murder Case: 20 से ज्यादा महिला मित्रों से संपर्क में था हत्या का आरोपी आफताब, अलग-अलग सिम से संपर्क में रहता था

नई दिल्ली। श्रद्धा वालकर मर्डर केस में आज आरोपी आफताब पूनावाला की पुलिस रिमांड खत्म हो रही है। पुलिस अब तक श्रद्धा का फोन और उसका सिर तलाश नहीं सकी है। साथ ही हत्या के बाद श्रद्धा के शव को जिस चाकू से 35 टुकड़ों में काटा गया, उसे भी बरामद नहीं किया जा सका है। ऐसे में पुलिस एक बार फिर कोर्ट से आफताब की पुलिस हिरासत बढ़ाने की अपील करेगी। वहीं, आफताब इस मामले में लगातार नए खुलासे कर रहा है। उसने पुलिस को बताया है कि श्रद्धा के अलावा उसकी तमाम महिला मित्र भी थीं। इन सभी से वो संपर्क में था। पुलिस अब इन युवतियों से भी पूछताछ कर सकती है।

shraddha valkar murder accused aaftab poonawala

पुलिस सूत्रों के मुताबिक आफताब ने बताया है कि उसकी 20 से ज्यादा महिला मित्र थीं। ये सभी महाराष्ट्र से लेकर दिल्ली तक रहती हैं। हर महिला मित्र से संपर्क करने के लिए वो नया सिम इस्तेमाल करता था। खुद के साथ ही उसने और लोगों के नाम से भी सिम कार्ड खरीदे थे। उसने पुलिस को बताया है कि ज्यादातर महिला मित्र डेटिंग एप के जरिए उससे संपर्क में आई थीं। आफताब ने श्रद्धा वालकर की हत्या के बाद अपना पुराना फोन ओएलएक्स पर बेच दिया था। श्रद्धा का मोबाइल उसने एक नदी में फेंकने की बात पुलिस से कही है।

Aaftab and shraddha

आफताब को रिमांड पर लेकर पुलिस ने वारदात की जगह क्राइम सीन रीक्रिएट किया था। साथ ही पुलिस उसे लेकर महरौली के जंगल भी गई थी। वहां आफताब की निशानदेही पर 10 के करीब मानव हड्डियां भी बरामद की गईं। रीढ़ के नीचे का पेलविक गर्डल भी पुलिस को मिला। अब पुलिस आफताब का नारको टेस्ट भी कराने जा रही है। क्योंकि उसे श्रद्धा का सिर और चाकू नहीं मिला है। नारको टेस्ट को कोर्ट में बतौर सबूत माना जाता है। कोर्ट ने नारको टेस्ट की मंजूरी भी पुलिस को दी है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!