Political
Trending

सपा ने जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची,भाजपा ने कहा सूची में दिख रहा अखिलेश का पाकिस्तान प्रेम

यूपी। उत्तर प्रदेश में होने वाले चुनाव पर हमेशा ही पूरे देश की नजर रहती है। बड़े-बड़े दिग्गजों और घटनाओं से घिरे उत्तर प्रदेश में होने वाला चुनाव हमेशा से ही हर मायने में बेहद खास माना जाता है। इसी कड़ी में सपा ने आज अपने 159 प्रत्याशियों की पहली सूची जारी की है।

Related Articles

वहीं सपा के प्रत्याशियों की लिस्ट जारी होते ही भाजपा ने एक बार फिर से समाजवादी पार्टी को आड़े हाथों लिया है। भाजपा की जॉइनिंग कमेटी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेई ने कहा कि दागी उम्मीदवारों को टिकट देकर अखिलेश की दंगा कराने की मंशा है
उन्होंने कहा कि अखिलेश का पाकिस्तान प्रेम उछल – उछलकर सामने आ रहा है ।

बता दें सपा प्रमुख अखिलेश सिंह यादव मैनपुरी की करहल सीट से ही चुनाव लड़ेंगे। वहीं , सीतापुर जेल में बंद आजम खान को रामपुर से टिकट दिया गया है। आजम के बेटे अब्दुल्ला को स्वार सीट से सपा ने मैदान में उतारा है। अब्दुल्ला 10 दिन पहले ही जमानत पर जेल से बाहर आए हैं । उत्कृष्ट भाजपा छोड़कर सपा में आए स्वामी प्रसाद मौर्या के बेटे मौर्या को टिकट नहीं दिया गया है। उनके जाग उठा सपा के पुराने नेता मनोज पांडे को टिकट दिया गया।

वहीं अगर महिलाओं की बात करें तो समाजवादी पार्टी से सिर्फ 7 महिलाओं को टिकट दिया गया हैं । सपा ने 159 नामों की लिस्ट में ‘ एमवाई ‘ यानी मुस्लिम – यादवों के समीकरण को साधने का पूरा प्रयास किया गया है । पार्टी ने 31 मुस्लिमों और 12 यादव प्रत्याशियों को टिकट दिया है । पार्टी का फोकस इस बार ओबीसी पर सबसे ज्यादा रहा है । सपा ने 159 में से 64 ओबीसी प्रत्याशियों को टिकट दिए हैं । सपा ने 159 में 7 महिलाओं को टिकट दिया है । वहीं , एसपी कैटेगरी के 31 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है । इसके अलावा , 8 वैश्य , 7 ठाकुर और 9 ब्राह्मण प्रत्याशी उतारे हैं ।

बसपा से आए 3 , कांग्रेस और भाजपा से आए 2-2 को टिकट सपा ने दूसरे दलों से आए नेताओं पर कम भरोसा जताया है । बसपा से आए तीन नेताओं में तिलक चंद्र अहिरवार को झांसी से , द्दू प्रसाद को नरैनी से और आरएस कुशवाह को निघासन सीट से प्रत्याशी बनाया है । इसके अलावा , कांग्रेस से आए अंकित परिहार को उन्नाव की भगवंतनगर से सुप्रिया ऐरन को बरेली कैंट से मैदान में उतारा है । वहीं , भाजपा से आए पूर्व मंत्री धर्मसिंह सैनी को सहारनपुर की नकुड़ से उतारा है ।

वहीं , रोशनलाल वर्मा को शाहजहांपुर की तिलहर सीट से प्रत्याशी बनाया है । कैराना से नाहिद हसन को ही मैदान में उतारा कैराना से पार्टी ने पलायन मामले में आरोपी रहे नाहिद हसन को ही मैदान में उतारा है । बताते चलें कि नाहिद हसन के जेल जाने के बाद उनकी बहन इकरा हसन के चुनाव लड़ने के की चर्चाएं लगातार चल रही थी । सोमवार को सभी अटकलों पर विराम लग गया । कैराना विधानसभा क्षेत्र से नाहिद हसन ही समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल के संयुक्त उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ेंगे ।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!