National

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बहजोई का किया जिलाधिकारी महोदय ने औचक निरीक्षण दिए आवश्यक दिशा निर्देश

जिलाधिकारी महोदय श्री मनीष बंसल ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बहजोई का औचक निरीक्षण किया। जिसमें काफी कमियां पाई गई। जिन को लेकर जिलाधिकारी महोदय ने नाराजगी व्यक्त की एवं अनुपस्थित चिकित्सा अधिकारियों एवं कर्मचारियों का 1 दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए एवं उन्होंने कहा कि अस्पताल में कार्य में गति लायी जाए। कार्य गुणवत्ता पूर्वक किया जाए जिससे आने वाले मरीज एवं पीड़ित लोगों को उचित इलाज एवं समय से दवा उपलब्ध हो सके। औचक निरीक्षण के दौरान 1 दिन का वेतन काटे गए चिकित्सा अधिकारी एवं कर्मचारी निम्नलिखित हैं। मेडिकल कंसलटेंट डॉक्टर बी एल बिराटिया] ,Dljs टेक्निशियन अजय पाल] ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर श्रीमती लवली सक्सेना] बीसीपीएम श्रीमती सर्वेश कुमारी] स्टाफ नर्स श्रीमती पूनम यादव] एस टी एस विजय पाल सिंह] सर्जन डॉक्टर शेखर वार्ष्णेय] सफाई कर्मी दीपेंद्र एवं विनोद कुमार] डाटा एंट्री ऑपरेटर रचना सक्सेना

Related Articles

इसके उपरांत 12%30 बजे थाना हयातनगर का निरीक्षण किया

जिसमें उन्होंने थाना के बंदी ग्रह एवं कंप्यूटर कृत कक्ष का निरीक्षण किया एवं महिला हेल्प डेस्क के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त की आगंतुक रजिस्टर देखा तथा जलूस एवं त्योहारों को लेकर क्या योजना तैयार की गई है उसके बारे में जानकारी प्राप्त की एवं दिशा निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र ने सख्त हिदायत देते हुए कहा कि किसी भी प्रकार की लापरवाही ना की जाए एवं सभी पुलिसकर्मी अलर्ट रहें।

इसके उपरांत तहसील संभल का निरीक्षण किया

जिसमें संपूर्ण समाधान दिवस में आई शिकायतों का रजिस्टर एवं रजिस्टर में दर्ज शिकायत का निस्तारण किया गया है या नहीं उसकी क्रॉस चेकिंग जिलाधिकारी महोदय द्वारा की गई और उन्होंने फोन के माध्यम से शिकायतकर्ता से जानकारी ली कि आपकी शिकायत का निस्तारण हुआ है या नहीं उसके उपरांत उन्होंने फसलों के नुकसान के बारे में जानकारी ली और उन्होंने कहा कि अगर किसी भी किसान का नुकसान होता है तो उसे 48 घंटे के अंदर उस नुकसान से संबंधित राहत प्रदान की जानी चाहिए। और उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि जो शिकायत जनता के द्वारा आती हैं उसका स्थलीय निरीक्षण कर गुणवत्ता पूर्वक शिकायत का निस्तारण किया जाए साथ ही आईजीआरएस की शिकायतों का समय से निस्तारण किया जाए। उसके बाद उन्होंने तहसील परिसर का निरीक्षण किया एवं अभिलेख कक्ष का निरीक्षण के दौरान आवश्यक दिशा निर्देश दिए। कंप्यूटर कक्ष एवं सभागार का निरीक्षण किया साथ ही तहसील परिसर में स्थित एआरटीओ कार्यालय का निरीक्षण किया एवं दिशा निर्देश दिए। ड्राइविंग लाइसेंस टेस्ट देने वाले व्यक्ति से जानकारी ली आपका लाइसेंस कैसे बनाया जा रहा है किसी के द्वारा कोई धनराशि की मांग तो नहीं की गई है। उसके बारे में जानकारी प्राप्त की।

इसके उपरांत जिला संयुक्त चिकित्सालय संभल का निरीक्षण किया

वहां की सभी व्यवस्थाओं एवं सुविधाओं को विस्तार पूर्वक देखा एवं आपातकालीन वार्डए लेबर वार्ड, ओ टी, एक्सरे रूम आदि का निरीक्षण किया एवं साफ-सफाई की व्यवस्था को देखा। जिसमें उन्होंने बताया कि साफ-सफाई की व्यवस्था सही पाई गई है। और उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि लोगों की सुविधा के लिए सिटीजन चार्टर की व्यवस्था की जाए। एवं जिससे जनमानस को अधिक सुविधा प्राप्त हो सके। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र, मुख्य विकास अधिकारी उमेश कुमार त्यागी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी पंकज कुमार विश्नोई, उप जिलाधिकारी संभल अभिनव गोपाल, तहसीलदार मनोज कुमार, जिला सूचना अधिकारी बृजेश कुमार, एवं संबंधित अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!