Raipur

जल विहार कॉलोनी में नही थम रहा जलभराव का सिलसिला

रायपुर। रायपुर को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए तमाम तरह के वादे और जद्दोजहद करने की बात महापौर कहते आ रहे हैं लेकिन जमीनी हकीकत आज भी कुछ और ही बयां कर रही है। इसी कड़ी में जल विहार कॉलोनी को जलभराव से रोकने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट का कार्य बंद पड़ा है, जिसके लिए मोहल्ले वासी बार-बार रायपुर नगर निगम के चक्कर काट काट कर निगमायुक्त को इस बात से अवगत करवाते आ रहे हैं।

स्थानीय लोगों की बात को सुनते हुए 2021 सितंबर में लगातार निवेदन आवेदन के बाद मात्र 10 दिन तक भरी बरसात में छुटपुट काम हुआ, उसके बाद से अब तक काम बंद है अर्थात काम बंद हुए 7 महीने हो चुके हैं।


स्थानीय पार्षद की इस अनदेखी से आगामी बरसात में फिर से लोगों के घरों दफ्तरों में पानी भरेगा, बुजुर्गा,बच्चों को बीमारियों से जूझना पड़ेगा और लोगों को भारी आर्थिक नुकसान भी होगा |

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत जल विहार कॉलोनी के जलभराव को रोकन जो प्रोजेक्ट तैयार किया गया है उस पर पिछले 3 सालों से कार्य चल रहा है। लगभग साढ़े 4 करोड़ के प्रोजेक्ट की अधिकांश राशि खर्च हो चुकी है परंतु कार्य नाम मात्र को दिखता है।

ऐसा नहीं है कि निगम आयुक्त को इस बात की भनक नहीं है उन्होंने सितंबर 2021 में रायपुर कलेक्टर रायपुर के साथ स्थल निरीक्षण किया था। बावजूद इसके अधिकारियों की उदासीनता, लापरवाही एवं ठेकेदार द्वारा देरी किए जाने से आलम आज भी जस की तस है वही देरी से कार्य करने से कार्य की लागत बढ़ती जाएगी और क्वालिटी भी खराब होती जाएगी। स्थानीय लोगों द्वारा अधिकारियों को अनेकों बार आवेदन निवेदन किया गया परंतु कार्य शुरू नहीं हो रहा है।
इन सब से हतोत्साहित होकर फिर से मोहल्ले वासियों ने रायपुर निगम आयुक्त को एक आवेदन देते हुए जल्द से जल्द जलभराव के संकट से मुक्ति दिलाने की गुहार लगाई है। ताकि आगामी बारिश में लोगों को परेशानियों का सामना ना करना पड़े।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!