National

बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा अब गलवान पर ट्वीट कर बुरी तरह घिरीं…

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा अपने एक ट्वीट को लेकर ट्रोल हो गई हैं. ऋचा ने उत्तरी सेना के कमांडर लेफ्टिनेट जनरल उपेंद्र द्विवेदी के बयान पर प्रतिक्रिया दी थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि भारतीय सेना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) को वापस लेने के आदेश को पूरा करने के लिए तैयार है. बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा ने सेना के अधिकारी के बयान के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा, “Galwan says hi.” जैसे ही उन्होंने ये ट्वीट किया सोशल मीडिया पर हंगामा मच गया. सोशल मीडिया यूजर्स ने भारत-चीन के बीच साल 2020 में हुई झड़प को लेकर अपमान करने के लिए आलोचना शुरू कर दी. लोगों ने लिखा कि हमारे गलवान में शहीद हुए हमारे जवानों का मजाक बनाया जा रहा है. हालांकि हंगामा बढ़ता हुए देख बाद में ऋचा चड्ढा ने इस ट्वीट को डिलीट कर दिया और माफी भी मांगी.

ऋचा ने इसको लेकर माफी मांगते हुए कहा कि ट्वीट से मेरा उद्देश्य सेना का अपमान करने का नहीं था. मेरे तीन शब्दों को विवाद में घसीटा गया. अगर किसी को भी बुरा लगा हो तो माफी चाहती हूं. उन्होंने कहा कि मेरे नानाजी खुद फौज में थे और लेफ्टिनेंट कर्नल की पोस्ट पर थे. भारत-चीन युद्ध में उनके पैर में गोली लगी थी. मेरे मामाजी भी पैराट्रूपर थे. ये मेरे खून में है. अगर सेना में कोई शहीद होता है तो उससे पूरा परिवार प्रभावित होता है. यहां तक कि अगर कोई सेना में घायल होता है तो भी दर्दनाक होता है. ये मेरे लिए एक भावनात्मक मुद्दा है.

बीजेपी नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने ऋचा के इस ट्वीट को अपमानजनक बताया. उन्होंने लिखा कि इस ट्वीट को जल्द से जल्द वापस लिया जाना चाहिए. हमारे सशस्त्र बलों का अपमान करना उचित नहीं है. वहीं शिवसेना प्रवक्ता (उद्धव ठाकरे गुट) आनंद दुबे ने एक्ट्रेस पर कार्रवाई की मांग की है. आनंद दुबे ने कहा कि एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने अपने ट्वीट में गलवान घाटी को घसीटते हुए मजाक किया है. मैं मुख्यमंत्री और गृहमंत्री से इस पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग करता हूं. राष्ट्रविरोधी ट्वीट करने वाले ऐसे अभिनेताओं पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए.

ऋचा चड्ढा के ट्वीट को लेकर सुप्रीम कोर्ट के वकील विनीत जिंदल ने दिल्ली पुलिस से शिकायत की है. सेना पर विवादित टिप्पणी करने के मामले में एक्ट्रेस पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है. हालांकि अब ऋचा चड्ढा ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया है. उत्तरी सेना के कमांडर उपेंद्र द्विवेदी ने कहा कि सरकार के आदेश पर हम कोई भी कार्रवाई करने को तैयार हैं. उन्होंने पाकिस्तान को चेतावनी जारी करते हुए कहा कि अगर सीजफायर का उल्लंघन किया तो उसका मुंहतोड़ जवाब मिलेगा. दोनों देशों की जिम्मेदारी है कि सीमा पर शांति बने रहे, लेकिन अगर पाकिस्तान कोई कदम उठाएगा तो उसे अंजाम भुगतने के लिए भी तैयार रहना होगा.

बता दें कि बीते कुछ दिनों पहले ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जम्मू-कश्मीर के दौरे पर गए थे. यहां उन्होंने कहा था कि पीओके में पाकिस्तान ने जो किया है, उसकी कीमत चुकानी पड़ेगी. पाकिस्तान अपने कब्जे वाले कश्मीर में लोगों पर ‘अत्याचार’ कर रहा है और उसे इसके परिणाम भुगतने होंगे. उन्होंने आगे कहा कि हमने कश्मीर का विकास कार्य शुरू कर दिया है, लेकिन हम तब तक नहीं रुकेंगे जब तक हम गिलगित-बाल्टिस्तान नहीं पहुंच जाते. आपको बता दें कि 15 जून की की रात को गलवान घाटी में भारत और चीन की सेना के बीच हिंसक झड़प हुई थी. इसमें भारतीय सेना के कर्नल संतोष बाबू समेत 20 जवान शहीद हो गए थे. सूत्रों के मुताबिक हिंसक झड़प में चीन के करीब 40 जवान मारे गए थे. हालांकि चीन ने अपने जवानों के मारे जाने का कोई आधिकारिक आंकड़ा जारी नहीं किया है.

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!