National

INDIA VS AUSTRALIA : WTC चैम्पियन बनी ऑस्ट्रेलिया…टूटा टीम इंडिया का सपना

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) की वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (WTC) 2023 सीजन दो साल तक चला. इसमें शानदार प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया पॉइंट्स टेबल में टॉप पर रही थी, जबकि भारतीय टीम दूसरे नंबर पर रही. इसी के चलते दोनों टीमों को फाइनल खेलने का मौका मिला.

Related Articles

भारतीय टीम लगातार दूसरी बार WTC के फाइनल में पहुंची थी. पिछली बार उसे न्यूजीलैंड के खिलाफ साउथैम्पटन में हार झेलनी पड़ी थी और खिताब जीतने का सपना टूट गया था. मगर WTC के दूसरे सीजन में जब भारतीय टीम फाइनल में पहुंची, तो एक फैन्स को एक बार फिर खिताब जीतने की उम्मीदें जगीं.

पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया का बड़ा स्कोर –

मगर पिछली बार की तरह इस बार भी फैन्स का यह सपना टूट गया. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यह फाइनल मुकाबला लंदन के द ओवल में 7 से 11 जून तक खेला गया. इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था, जब जून में यहां कोई टेस्ट मैच हुआ. मैच में टॉस भारत के फेवर में रहा. कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया.

रोहित ने टॉस के वक्त कहा था कि पिच पर काफी घास है, ऐसे में तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगा. मगर जब मैच शुरू हुआ, तो मामला कुछ अलग ही नजर आया. ऑस्ट्रेलिया ने शुरुआती 3 विकेट 76 रनों पर गंवा दिए थे. मगर उसके बाद स्टीव स्मिथ और ट्रेविस हेड ने क्रीज पर पैर जमाए और चौथे विकेट के लिए 285 रनों की पार्टनरशिप कर टीम का स्कोर 469 रन तक पहुंचा दिया. इस पारी में हेड ने 163 और स्मिथ ने 121 रनों की पारी खेली.

WTC फाइनल मैच का हाल –

ऑस्ट्रेलियाई टीम – पहली पारी: 469, दूसरी पारी: 270/8 (घोषित)
भारतीय टीम – पहली पारी: 296, दूसरी पारी: 234

पहली पारी में भारतीय शेर हुए ढेर –

बस ऑस्ट्रेलिया की इसी पारी ने उसकी जीत सुनिश्चित कर दी थी. भारतीय टीम से उम्मीद थी कि वह पहली पारी में बड़ा स्कोर बनाएगी, मगर यहां भी फैन्स निराश ही हुए. कप्तान रोहित शर्मा (15), विराट कोहली (14), शुभमन गिल (13), चेतेश्वर पुजारा (14) सस्ते में पवेलियन लौट गए. अजिंक्य रहाणे ने 89 रन, रवींद्र जडेजा ने 48 और शार्दुल ठाकुर ने 51 रन बनाकर टीम का स्कोर 296 तक पहुंचाया. इस तरह पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया ने 173 रनों की बड़ी लीड हासिल कर ली.

यहां से फैन्स को समझमें आ गया था कि मैच भारत की झोली से निकल चुका है. अब टीम इंडिया को किसी चमत्कार की ही जरूरत है, मगर वो भी नहीं हुआ. मौसम विभाग लाख बताते रहे कि 11 और 12 जून को लंदन में भारी बारिश हो सकती है, मगर यह अनुमान भी सिर्फ अनुमान ही रह गया.

दूसरी पारी में भी नहीं चले रोहित-कोहली –

दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 8 विकेट पर 270 रन बनाकर पारी घोषित कर दी. उसे पहली पारी में 173 रनों की बढ़त मिली थी. ऐसे में टीम इंडिया के सामने मैच जीतने के लिए 444 रनों का बड़ा टारगेट खड़ा हो गया. पहली पारी की तरह फैन्स को इस बार पूरी उम्मीद जग गई कि यह मैच हाथ से निकल जाएगा. मगर दिल में कहीं भारतीयता वाली फीलिंग थी कि कोहली, रोहित, गिल, पुजारा या रहाणे कोई चमत्कारी पारी खेलें और मैच पलट दें.

मगर ऐसा नहीं हो सका. लोगों को जो हार की उम्मीद थी वही हुआ भी. दूसरी पारी में भारतीय टीम 234 रनों पर सिमट गई और लगातार दूसरी बार WTC चैम्पियन बनने का सपना भी टूट गया. भारतीय टीम ने यह मैच 209 रनों से गंवा दिया.

दूसरी पारी में भारतीय टीम के लिए विराट कोहली ने 49, अजिंक्य रहाणे ने 46 और रोहित शर्मा ने 43 रन बनाए. मगर जितना बड़ा टारगेट था, उस लिहाज से यह प्रदर्शन फ्लॉप ही कहा जाएगा. इसे मैच विनिंग पारी नहीं कह सकते.

Desk idp24

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!