National

संभल आईजीआरएस पर लंबित शिकायतों को जिला स्तरीय अधिकारी समय निकालकर गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करेंः जिलाधिकारी

कलेक्ट्रेट सभागार बहजोई में जिलाधिकारी महोदय श्री मनीष बंसल एवं पुलिस अधीक्षक महोदय श्री चक्रेश मिश्र की अध्यक्षता में विकास कार्य एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। जिसमें जिलाधिकारी महोदय ने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों से परिचय किया एवं दिशा निर्देश दिए सर्वप्रथम कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक करते हुए पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र ने बताया की जनपद में 15 थाने एक महिला थाना है। और उन्होंने बताया कि 8 गैंगस्टर नए चयनित किए गए हैं एवं 122बी मे कुछ काम करने की जरूरत है चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाया गया है।

विवेचना में फर्जी मेडिकल पर अंकुश लगाया गया है। संरक्षण गृह ना होने के कारण वन स्टॉप सेंटर में पीड़ित महिलाओं को रखा जाता है। पंचायत भवनों में मिशन शक्ति के अंतर्गत महिला हेल्प डेस्क में काफी सुधार आया है। साथ ही टॉप टेन अपराधी, खनन माफिया, गौ तस्करी तथा आगामी त्यौहार एवं जलूसओं को लेकर भी चर्चा की। फायर बिग्रेड के विषय में जानकारी प्राप्त की एवं दिशा निर्देश दिए उन्होंने कहा कि जनपद में गेहूं की फसल का समय चल रहा है साथ ही मेंथा का व्यापार जनपद में अधिक है इस को ध्यान में रखते हुए फायर बिग्रेड अलर्ट रहे। और नगर पालिका अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने पानी के टैंकरों का रिकॉर्ड रखें ताकि कोई समस्या आने पर इनको भी कार्य पर लगाया जा सके।

उन्होंने कहा कि शासन की मंशा अनुसार कानून व्यवस्था के अंतर्गत कार्य किया जाए। आई. जी. आर. एस. शिकायतों को लेकर कड़े निर्देश दिए उन्होंने कहा कि सभी जिला स्तरीय अधिकारी आइजीआरएस पर लंबित शिकायतों को समय निकालकर उनका गुणवत्ता पूर्वक निस्तारण करें जिससे शिकायतकर्ता को संतुष्टि मिले साथ ही अपने अधीनस्थों को भी निर्देशित करें की शिकायत का निस्तारण समय से किया जाए। उन्होंने कहा कि अवैध खनन को लेकर जनपद में अधिक शिकायत देखने को मिल रही हैं जिसमें खनन इंस्पेक्टर को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में किसी भी दशा में खनन का कार्य नहीं होना चाहिए अगर ऐसी कोई शिकायत आती है तो 48 घंटे के अंदर खनन माफिया पर एफआईआर कर अधोहस्ताक्षरी को अवगत कराएं।

एआरटीओ को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में कितनी जेसीबी रजिस्टर्ड हैं उनका रिकॉर्ड अधोहस्ताक्षरी कार्यालय में प्रेषित करें। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में किसी भी दशा में छुट्टा गोवंश नहीं दिखने चाहिए। और उन्होंने कहा कि छुट्टा जानवरों एवं गो अभ्यारण्य पर क्या योजना बनाई गई है उसकी रिपोर्ट अधोहस्ताक्षरी को प्रेषित करें। कृषि विभाग की समीक्षा बैठक करते हुए कृषि उपनिदेशक को निर्देशित करते हुए कहा कि एफपीओ को लेकर क्या योजना बनाई है और उसके अंतर्गत क्या.क्या कार्य किए गए हैं उसकी रिपोर्ट प्रेषित करें।

उन्होंने कहा कि सरकार की तीन प्रमुख योजनाओं के अंतर्गत क्या-क्या कार्य किए गए हैं जैसे कि स्कूल चलो अभियान, पी एम स्वनिधि एवं आयुष्मान भारत, वैक्सीनेशन आदि की प्रगति रिपोर्ट अधोहस्ताक्षरी को प्रेषित करें और उन्होंने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि फाइलों का निस्तारण समय से पूरा किया जाए एवं अपने अधीनस्थों को निर्देशित करें कि अपने पटल पर 3 दिन से अधिक कोई भी कार्य लंबित ना रखें। सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि तहसील स्तर पर अधिक शिकायतें आती हैं उनको चयनित कर उनका यथा शीघ्र निस्तारण कराना सुनिश्चित करें। जिससे जनपद में कोई शिकायत लंबित ना रहे।

जिलाधिकारी महोदय ने कहा कि मैं आशा करता हूं सभी जिला स्तरीय अधिकारी मेरे साथ एक टीम बनाकर कार्य करेंगे जिससे जनपद संभल मे अधिक से अधिक विकास हो सके एवं भारत सरकार एवं राज्य सरकार की योजनाओं के अंतर्गत पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित कर सकें। उत्तर प्रदेश मे जनपद संभल विकास के कार्यों में एक अच्छा मुकाम बना सके। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी उमेश कुमार त्यागी, अपर जिलाधिकारी कमलेश कुमार अवस्थी, अपर पुलिस अधीक्षक आलोक जायसवाल, परियोजना निदेशक डीआरडीए रमेश चंद्र, डीसी मनरेगा बलवंत सिंह, सभी उप जिलाधिकारी एवं सभी क्षेत्राधिकारी तथा अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!