Pendra Gorela

बलवा ड्रिल : GPM पुलिस और प्रशासन ने किया बलवा ड्रिल का अभ्यास…

@सुमित जालान

Related Articles

गौरेला पेंड्रा मरवाही :- जिले में हो रही रोड चौड़ीकरण से घरों के तोड़फोड़ को लेकर आमजनता आज रोड पर उतर आई और रोड जाम कर प्रदर्शन प्रारम्भ कर दिया गया। पुलिस को सूचना मिलते ही पूरी तैयारी के साथ पुलिस और राजस्व की टीम मौके पर पहुंच कर पहले आमजनों को समझाने का प्रयास किया गया पर उग्र भीड़ के द्वारा किसी की बात न सुन कर प्रदर्शन जारी रखा गया।

जिसे पुलिस एवं राजस्व के अधिकारियों के द्वारा विधिसम्यक कार्यवाही करते हुए बलवाइयों को चेतावनी देते हुए भीड़ को तितर बितर करने को कहा गया जो नही मानने पर पानी की बौछारें, फिर हल्का बल प्रयोग करने के बाद भी नही मानने पर अश्रुगैस का प्रयोग किया गया। भीड़ के हिंसक प्रदर्शन एवं पथराव किए जाने पर उपस्थित मजिस्ट्रेट के द्वारा गोली चालन की अनुमति दिए जाने पर भीड़ को तितर बितर करने हवाई फायरिंग किया गया। जिससे 5 बलवाई घायल हुए तथा 2 पुलिस वालों को पत्थर लगने से चोटें आई।

दरअसल यह कोई घटना नही, जीपीएम रक्षित केंद्र में आज पुलिस अधीक्षक त्रिलोक बंसल की उपस्थिति में कानून व्यवस्था के दौरान पुलिस की तत्परता एवं उनके द्वारा कानून व्यवस्था ड्यूटी पर उग्र भीड़ को नियंत्रण करने का एक मॉकडिल था। उपस्थित कर्मचारियों एवं अधिकारियों की अलग अलग पार्टी बनाई जाकर उन्हें साजो सामान उपलब्ध करवा कर बलवा ड्रिल का अभ्यास कराया गया। इसके पूर्व पुलिस अधीक्षक बंसल के द्वारा बलवा ड्रिल में सभी पार्टियों के सदस्यों को ब्रीफिंग किया गया एवं इस दौरान होने वाली छोटी-छोटी खामियों के बारे में उपस्थित अधिकारियों कर्मचारियों को बताकर उनके निराकरण हेतु सुझाव दिए।

इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पुष्पेंद्र शर्मा, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस अशोक वाडेगावकर, आई. तिर्की, तहसीलदार इंदिरा मिश्रा, शेष नारायण जायसवाल, रक्षित निरीक्षक रामप्रसाद पैकरा, थाना गौरेला प्रभारी युवराज तिवारी एवं रक्षित केंद्र एवं थानों के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!